JharkhandLead NewsRanchi

मनरेगा: रोजगार उपलब्ध कराने में चतरा टॉप पर, रांची 21वें पायदान पर खिसका

बारिश के मौसम में मानवदिवस सृजन में गिरावट

Ranchi: झारखंड में हर हाथ को काम देने की योजना मनरेगा से रोजगार देने में भारी गिरावट आई है. कई जिलों में दिए गये लक्ष्य के अनुरूप मानव दिवस का सृजन आधा से भी कम हुआ है. महिलाओं को भी रोजगार उपलब्ध कराने में पूरी सफलता नहीं मिल रही है. जिले के अधिकारी बारिश के मौसम के कारण कम योजनाएं संचालित होना और फंड की कमी इसकी बड़ी वजह बता रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : जानिये, क्या हुआ जब केंद्रीय मंत्री जिंदा जवान के घर पहुंच गये शोक जताने

ग्रामीण विकास विभाग ने लक्ष्य के अनुरूप मानव दिवस सृजन करने वाले जिलों की रैंकिंग तैयार की है,जिसमें सर्वाधिक चतरा जिला में रोजगार उपलब्ध कराया गया है यह जिला टॉप पर है. देवघर दूसरे स्थान पर है. खराब परफॉरमेंस वाले जिलों में लातेहार 23वां,धनबाद 24वां व रांची जिला 21वें पायदान पर आ गया है. जानकारों का कहना है कि ग्रामीण विकास विभाग ने मॉनिटरिंग के लिए दो एप विकसित किए हैं यह भी एक बडी वजह बन रही है. भारत सरकार नेशनल मॉनिटरिंग मोबाइल सिस्टम एप के जरिेये मनरेग मजदूरों के काम की सीधी निगरानी कर रहा है. इससे फर्जी जॉब कार्ड बनने पर रोक लग रही है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें : Jharkhand Corona Update: रांची में फिर मिले 12 संक्रमित, 19 जिलों में 24 घंटे में एक भी संक्रमित नहीं

The Royal’s
Pitambara
Sanjeevani
Pushpanjali

सूत्रों के अनुसार पहले 4-5 लाख तक मानवदिवस सृजित हो रहा था यह अभी घट गया है. मनरेगा आयुक्त राजेश्चरी बी ने इसकी समीक्षा की थी. कम मानव दिवस सृजन पर नाराजगी जाहिर की है. सभी जिलों के पदाधिकारियों को कड़ी हिदायत देते हुए मानवदिवस सृजन में वृद्धि का निर्देश दिया है. कड़ी कार्रवाई की भी चेतावनी दी गयी है. बता दें कि मनरेगा के तहत पशु शेड, बिरसा हरित ग्राम योजना, डोभा निर्माण, मुर्गी शेड, बकरी शेड सहित कई योजनाएं संचालित है.

 

जिलावार मानव दिवस सृजन की स्थिति व रैकिंग

पलामू-17वां स्थान

लक्ष्य- 79.30 लाख

सृजित मानव दिवस-20.66 लाख (39 प्रतिशत)

लातेहार-23वां स्थान

लक्ष्य- 52.96 लाख

सृजित मानवदिवस-17.87 लाख (34 प्रतिशत)

गढ़वा-तीसरा स्थान

लक्ष्य-87.64 लाख

मानव दिवस सृजन-18.60 लाख( 45 प्रतिशत)

धनबाद-24वां स्थान

लक्ष्य-47.53 लाख

सृजित मानव दिवस-12.98 लाख (27 प्रतिशत)

साहेबगंज- 5वां

लक्ष्य- 46.64 लाख

सृजित मानव दिवस-19.61 लाख

दुमका-14वां स्थान

लक्ष्य-61.18 लाख

सृजित मानवदिवस-25.19 लाख (41 प्रतिशत)

जामताड़ा- छठा स्थान

लक्ष्य-54.94 लाख

सृजित मानव दिवस-25.31 लाख  (46 प्रतिशत)

पश्चिम सिंहभून-12वां स्थान

लक्ष्य-51.50 लाख

सृजित मानव दिवस-18.66 लाख (36 प्रतिशत)

गोड्डा- 20वां स्थान

अनुमोदित मानवदिवस-59.36 लाख

सृजित मानव दिवस-22.69 लाख  (38 प्रतिशत)

बोकारो- 9वां स्थान

अनुमोदित मानव दिवस-53.36 लाख

सृजित मानव दिवस-19.47 लाख (36 प्रतिशत)

रांची-  21वां स्थान

अनुमोदित मानव दिवस-67.51 लाख

सृजित मानवदिवस-19.56 लाख (29 प्रतिशत)

देवघर- दूसरा स्थान

अनुमोदित मानवदिवस- 58.24 लाख

सृजित मानव दिवस- 30.66 लाख (52 प्रतिशत)

पाकुड़- चौथा स्थान

लक्ष्य- 37.40 लाख

सृजित मानव दिवस-16.17 लाख (43 प्रतिशत)

गुमला- 7वां स्थान

लक्ष्य- 42.16 लाख

सृजित मानवदिवस- 19.29 लाख (46 प्रतिशत)

गिरिडीह-13वां स्थान

लक्ष्य- 114.7 लाख

सृजित मानवदिवस- 47.88 लाख (42 प्रतिशत)

पूर्वी सिंहभूम-16वां स्थान

लक्ष्य- 52.11 लाख

सृजित मानव दिवस- 17.74 लाख (34 प्रतिशत)

हजारीबाग- 11वां स्थान

लक्ष्य- 59.79 लाख

सृजित मानवदिवस-24.42 लाख (41 प्रतिशत)

कोडरमा-19वां स्थान

लक्ष्य-26.05 लाख

सृजित मानवदिवस-10.08 लाख (39 प्रतिशत)

चतरा- पहला स्थान

लक्ष्य – 45 लाख

सृजितत मानवदिवस-24.32 लाख( 54 प्रतिशत)

सरायकेला-खरसावां- 22वां स्थान

अनुमोदित मानवदिवस- 46.65 लाख

सृजित मानवदिवस-16.63 लाख (36 प्रतिशत)

सिमडेगा- 10वां स्थान

लक्ष्य- 39.83 लाख

सृजित मानवदिवस-17.25 लाख (43 प्रतिशत)

खूंटी-15वां स्थान

लक्ष्य- 23.04 लाख

सृजित मानवदिवस- 9.12 लाख  (40 प्रतिशत)

लोहरदगा-18वां स्थान

लक्ष्य- 17.67 लाख

सृजित मानव दिवस- 6.16 लाख (35 प्रतिशत)

रामगढ़- 8वां स्थान

मानवदिवस- 26.28 लाख

सृजित मानवदिवस- 9.75 लाख (37 प्रतिशत)

Related Articles

Back to top button