JharkhandRanchi

जमशेदपुर के एमजीएम कॉलेज को मिलेगा 500 बेड का नया भवन

♦सीएम हेमंत सोरेन ने कहा- उच्च गुणवत्ता के सरकारी इलाज की सुविधा मिल सकेगी

Ranchi  :  जमशेदपुर स्थित महात्मा गांधी मेमोरियल (एमजीएम) कॉलेज को जल्द ही 500 बेड का एक नया भवन मिलेगा. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश के बाद जमशेदपुर डीसी सूरज कुमार ने कहा है कि इस दिशा में कार्रवाई शुरू कर दी गयी है. डिमना रोड निवासी संजय सिंह की इलाज के क्रम में हुई मौत के मामले की जांच के सीएम निर्देश पर डीसी ने यह बात कही है.

इसे भी पढ़ें – क्या लाखों डिसलाइक (अधिकांश यूपी-बिहार के) किसी बड़े आंदोलन के संकेत हैं?

advt

सीएम ने कहा कि नया भवन बनने से क्षेत्र के लोगों को भविष्य में उच्च गुणवत्ता की सरकारी इलाज की सुविधा मिल सकेगी. बता दें कि सांस लेने में तकलीफ के बाद संजय सिंह नाम के व्यक्ति को एमजीएम में भरती कराया गया था. हालांकि इमरजेंसी में बेड नहीं मिलने पर फर्श पर ही पीड़ित की ईसीजी की गयी. इस क्रम में उसकी मौत हो गयी. जानकारी मिलते ही सीएम ने कहा कि कर्तव्यनिष्ठ चिकित्सक और मेहनती स्वास्थ्य कर्मचारियों के बावजूद वर्षों से एमजीएम में ऐसी घटनाएं देखने को मिल रहीं हैं. उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री को भी मामले में संज्ञान लेते हुए व्यवस्था सुदृढ़ करने का निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ें – मोदी काल में अर्थव्यवस्था गर्त में, पहली तिमाही की GDP -23.9 फीसदी, 40 साल में पहली बार गिरावट

आदिम जनजाति के 30 परिवार सरकारी सुविधाओं से हैं वंचित, सीएम के निर्देश पर मिलेगा लाभ

अपने एक अन्य निर्देश में सीएम ने पलामू स्थित मायापुर गांव के कोरवा टोला में निवास करनेवाले 30 परिवार  को मनरेगा सहित सभी सरकारी योजनाओं का लाभ देने का निर्देश दिया. सीएम को बताया गया था कि मायापुर गांव के कोरवा टोला में 30 आदिम जनजाति परिवार के लोग रोजगार से वंचित हैं. इन्हें मनरेगा के तहत रोजगार नहीं मिला है. कई लोगों को राशन कार्ड, वृद्धा पेंशन समेत अन्य सरकारी सुविधाओं से लाभान्वित नहीं किया गया है. मामले की जानकारी के बाद मुख्यमंत्री ने उपरोक्त निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ें – पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का निधन, 84 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button