न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पुरुष विश्व कप हॉकी : जर्मनी ने नीदरलैंड को 4-1 से हराया, क्वार्टर फाइनल के करीब पहुंचा

eidbanner
23

Bhubaneswar : दो बार के चैंपियन जर्मनी ने पिछले साल के उपविजेता नीदरलैंड को बुधवार को यहां पूल डी के मैच में 4-1 से हराकर पुरुष विश्व कप हॉकी के क्वार्टर फाइनल में सीधे प्रवेश की तरफ मजबूत कदम बढ़ाये. जर्मनी की तरफ से मैथियस मुलर (30वें मिनट), लुकास विंडफडर (52वें), मार्को मिल्टकाउ (54वें) और क्रिस्टोफर रुहर (58वें) ने गोल किए. उसकी यह अपने पूल में लगातार दूसरी जीत है. नीदरलैंड ने हालांकि वेलेंटाइन वर्गा के 13वें मिनट में किये गये गोल से शुरुआती बढ़त हासिल की थी.

जर्मनी ने इससे पहले पाकिस्तान को 1-0 से हराया था

इस जीत से जर्मनी पूल डी में छह अंक के साथ शीर्ष पर पहुंच गया है. नीदरलैंड के तीन अंक है. जर्मनी ने इससे पहले पाकिस्तान को 1-0 से हराया था, जबकि नीदरलैंड ने मलेशिया को 7-0 से करारी शिकस्त दी थी.  विश्व के नंबर चार नीदरलैंड और नंबर छह जर्मनी के बीच मुकाबले में डच टीम ने शुरू में आक्रामकता दिखायी लेकिन मैच आगे बढ़ने के साथ जर्मन हावी हो गये.

पहले क्वार्टर में हालांकि नीदरलैंड का प्रदर्शन अच्छा रहा

नीदरलैंड के कप्तान बिली बेकर के पास गोल करने का पहला मौका था, लेकिन आठवें मिनट में उनका करीब से जमाया गया, शाट जर्मन गोलकीपर टोबियास वाल्टर ने रोक दिया. पहले क्वार्टर में हालांकि नीदरलैंड का प्रदर्शन अच्छा रहा और उसने बढ़त भी बनायी. वर्गा ने 13वें मिनट माइक्रो प्रूइज्सर के रिवर्स हिट क्रास पर यह गोल किया. जर्मन टीम को पहला क्वार्टर समाप्त होने से ठीक पहले पेनल्टी कार्नर भी मिला, लेकिन भाग्य ने उसका साथ नहीं दिया और मैथियस मुलर का शाट पोस्ट से टकरा गया.  जर्मनी ने इसके बाद भी दबाव बनाये रखा और उसे लगातार दो पेनल्टी कार्नर मिले. इनमें से दूसरे पर मुलर ने गोल दागा.

 निकलास वेलेन गोल करके स्कोर 3-1 कर पहुंचाया

मध्यांतर के बाद भी जर्मनी का आक्रामक रवैया बरकरार रहा, लेकिन वह नीदरलैंड था, जिसे दो मिनट के अंदर चार पेनल्टी कार्नर मिले. उसने हालांकि ये सभी मौके गंवा दिये. नीदरलैंड को यह चूक भारी पड़ी और जर्मनी ने अपने चौथे पेनल्टी कार्नर को गोल में बदल दिया. उसकी तरफ से यह गोल विंडफडर ने किया. इसके दो मिनट बाद मिल्टकाउ ने निकलास वेलेन के पास पर गोल करके स्कोर 3-1 कर दिया. जर्मनी यहीं पर नहीं रूका. उसे अंतिम हूटर बजने से दो मिनट पहले पेनल्टी स्ट्रोक मिला जिसे रूहर ने गोल में बदला.

इसे भी पढ़ें :आइपीएल नीलामी : 70 स्थानों के लिए दावेदारी पेश करेंगे 1003 खिलाड़ी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: