न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पार्षदों के हंगामे की भेंट चढ़ी निगम स्टैंडिंग कमेटी की बैठक, चार घंटे में पास हुए महज दो प्रस्ताव

डिप्टी मेयर, अपर नगर आयुक्त के मानने पर भी नहीं माने नाराज पार्षद

eidbanner
20
  • मेयर के डेढ़ घंटा समझाने के बाद फिर शुरू हुई बैठक

Ranchi : नगर निगम सभागार में शुक्रवार को आयोजित की गयी स्टैंडिंग कमेटी की बैठक एकबार फिर पार्षदों के हंगामे की भेंट चढ़ गयी. शहर की सफाई व्यवस्था सुदृढ़ करने की मांग पर जब निगम के अधिकारी टाल-मटोल करने लगे, तो बीच समय में ही पार्षद बैठक छोड़ निगम सभागार के बाहर जमकर हंगामा करने लगे. हंगामे के बीच कमेटी में केवल दो ही प्रस्तावों पर सहमति बन पायी. इसमें एक शहर में बनने जा रहे नाली निर्माण कार्य की नापी रांची विवि के भूगोल के छात्रों द्वारा होना, दूसरा कैंसर से पीड़ित वार्ड नंबर 28 स्थित शिव-दुर्गा मंदिर लेन निवासी संजीव कुमार के वाटर बिल माफी का प्रस्ताव शामिल है.

नाराज पार्षदों को मनाने का दौर ही रहा मुख्य काम

बैठक में दिन भर हंगामा और नाराज पार्षदों को मनाने का दौर ही चलता रहा. चार घंटे की बैठक में महज दो प्रस्तावों पर ही सहमति बन सकी. बैठक शुरू होते ही उपस्थित पार्षदों ने निगम के अधिकारियों को बताया कि शहर की सफाई व्यवस्था लचर हो गयी है. जनता के नजर में पार्षदों की छवि धूमिल हो रही है. जरूरी है कि सबसे पहले सफाई के मामले में आर-पार की बात की जाये. पार्षदों की इस मांग पर मेयर, डिप्टी मेयर समेत अन्य आला अधिकारी टाल-मटोल करने लगे. जिससे नाराज पार्षदों निगम सभागार के बाहर निकलकर विरोध करने लगे. विरोध करते हुए सभी पार्षद-मेयर के चेंबर में बैठ गये.

अधिकारियों की बात नहीं सुनने पर अड़े पार्षद

नाराज पार्षदों को पहले मनाने अपर नगर आयुक्त गिरिजा शंकर प्रसाद पहुंचे. काफी देर बात करने के बाद जब बात नहीं बनी तो उसके बाद डिप्टी मेयर संजीव विजयवर्गीय पहुंच और समझाने का प्रयास किया. जब नाराज पार्षद नहीं माने, तो मेयर आशा लकड़ा इन्हें समझाने पहुंची. मेयर और पार्षदों के बाद एक घंटे से अधिक समय तक मनाने का दौर चलता रहा. लगभग एक घंटे के बाद पार्षदों की सहमति बनी. जिसके बाद बैठक शुरू किया जा सका. लेकिन इसक बाद बैठक में महज दो प्रस्ताव को ही पास किया जा सका. मौके पर नगर आयुक्त मनोज कुमार, उप नगर आयुक्त संजय कुमार, नागेंद्र प्रसाद समेत स्टैंडिंग कमेटी के सदस्य उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें : 24 फरवरी को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की ओरमांझी से होगी राज्यस्तरीय लॉन्चिंग

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: