National

भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक आज शाम, जश्न का माहौल, प्रधानमंत्री मोदी का होगा भव्य स्वागत, कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे मोदी

विज्ञापन

NewDelhi : भारतीय राजनीति ने करवट बदली है. देश के इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि कोई गैर-कांग्रेसी दल बहुमत के साथ फिर से सत्ता में वापसी करने जा रहा है.  लोकसभा चुनाव के नतीजों के रुझानों में भाजपा ने अपने दम पर 285 सीटों पर बढ़त बना ली है. वहीं भाजपा के अगुआई वाली एनडीए रुझानों में 341 सीटों पर बढ़त हासिल कर चुकी है.

बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के नेतृत्व में लगातार तीन बार, वहीं इंदिरा गांधी ने लगातार दो बार कांग्रेस को पूर्ण बहुमत दिलवाकर सरकार बनाई थी. इस तरह मोदी ने इंदिरा गांधी की बराबरी कर ली है. वहीं कांग्रेस ने एकबार फिर 2014 जैसा प्रदर्शन ही किया है.  कांग्रेस 55 सीटों पर आगे चल रही है. उत्तर प्रदेश में भी भाजपा बेहतर प्रदर्शन कर रही है. यहां सपा-बसपा काफी पीछे जबकि राजस्थान,  मध्यप्रदेश, बिहार छत्तीसगढ़, दिल्ली में भी भाजपा कांग्रेस से कहीं आगे है.

भाजपा ने जीत के जश्न की तैयारी शुरू कर दी

इस सब के बीच भाजपा ने जीत के जश्न की तैयारी शुरू कर दी है. भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक आज शाम को बुलाई गयी है. जिसमें पीएम मोदी पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करेंगे. दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कार्यकर्ताओं से कहा है कि वह जल्द से जल्द बीजेपी हेडक्वॉर्टर पहुंचे. उम्मीद है कि जश्न में 20 हजार कार्यकर्ता पहुंचे सकते हैं. कहा जा रहा है कि इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भव्य स्वागत किया जाएगा.  इसके साथ ही देशभर में भाजपा कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाना शुरू भी कर दिया है. ढोल-नगाड़ों और लड्डू के साथ कार्यकर्ता जश्न के रंग में रंग चुके हैं। इसके लिए पार्टी कार्यकर्ता राज्यों में स्थित भाजपा कार्यालयों में जुट रहे हैं.

advt

बता दें कि इस बार के लोकसभा चुनाव 7 चरणों में 17 अप्रैल से 19 मई को हुए थे. चुनाव में कुल 67.11 प्रतिशत मतदान किया गया. मतदान खत्म होते ही तमाम न्यूज चैनलों के ज्यादातर एग्जिट पोल में भाजपा की भारी जीत की आशंकी जताई गयी थी. वहीं भाजपा ने भी एनडीए को 300 से ज्यादा सीटें मिलने की बात कही थी जो कि अब सच होता दिख रहा है. 2014 के लोकसभा चुनाव में भी मोदी लहर के दम पर भाजपा ने कांग्रेस को बुरी तरह हराया था. कांग्रेस विपक्ष की मुख्य पार्टी बनने लायक सीटें तक नहीं जीत सकी थी. 

इसे भी पढ़ें – लोकसभा चुनाव 2019 रुझान : एनडीए गठबंधन 337 सीटों पर, भाजपा अकेले बहुमत के पार,286 सीटों पर आगे

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button