Crime NewsJharkhandRanchiTOP SLIDER

मेडिकल छात्रा की मौत का मामलाः सुराग के लिए FB ACCOUNT खंगाल रही पुलिस, FSL भी कर रही जांच

एसआईटी ने चार युवकों को लिया है हिरासत में, पुलिस की 16 टीमें कर रही हैं जांच

Ranchi : पतरातू डैम में बीते मंगलवार को मेडिकल छात्रा का पैर-हाथ बंधा शव मिला था. पुलिस इस मामले का सुराग पाने के लिए कुछ फेसबुक अकाउंट्स खंगाल रही है. 12 जनवरी की घटना के बाद जिले के तमाम पुलिस अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे थे.  जांच भी तत्काल शुरू हुई, लेकिन अब तक तहकीकात का ठोस नतीजा सामने नहीं आया है. शुक्रवार को एफएसएल की टीम भी सबूत इकट्ठा करने पतरातू डैम में उस स्थान पर पहुंची, जहां से छात्रा का शव बरामद हुआ था.

पूजा भारती हजारीबाग के शेख भिखारी मेडिकल कॉलेज की छात्रा थी. तीसरे दिन भी पुलिस की जांच अलग-अलग स्थानों पर चल रही हैं. जांच का तकनीकी दायरा भी बढ़ता जा रहा है. छात्रा के फेसबुक एकाउंट की भी जांच की जा रही है. उसके डाटा के लिए फेसबुक को पत्र भी लिखा गया है.

चार युवकों से पूछताछ कर रही है एसआईटी

 

पूजा भारती हत्याकांड में गठित 16 सदस्यीय टीम लगातार छापेमारी कर रही है. हत्याकांड के गोड्डा से भी तार जुड़े होने की आशंका है. वहीं गोड्डा के गांधीनगर व रामनगर से चार युवकों को एसआईटी टीम ने किया हिरासत में लिया है. सभी से पूछताछ हो रही है. हालांकि अब तक यह साफ नहीं हो पाया है कि किन-किन युवकों को पूछताछ के लिए ले जाया गया है. इस मामले पर गोड्डा पुलिस अधीक्षक से जब पूछा गया तो कुछ भी कहने से इनकार किया है. साफ कहा कि उन्हें इस मामले में कोई जानकारी नहीं है.पूजा भारती झारखंड के हजारीबाग मेडिकल कॉलेज की छात्रा थी. उसका शव पतरातू डैम से बरामद हुआ था. हजारीबाग मेडिकल कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने बताया की पूजा कॉलेज में नॉर्मल रहती थी.

Sanjeevani

चार जिलों की पुलिस जुटी है गुत्थी सुलझाने में

पूजा भारती की हत्या की गुत्थी सुलझाने में चार जिलों की पुलिस जुटी है. हजारीबाग, रामगढ़, गोड्डा और रांची पुलिस की लगभग 16 टीमें मामले की जांच कर रही है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट से जाहिर हो रहा है कि पूजा की मौत डूबने से हुई है. अब आशंका व्यक्त की जा रही है कि पूजा को हाथ पैर बांधकर जिंदा ही पानी में फेंक दिया गया होगा, रिपोर्ट में पाया गया है कि पूजा के शरीर पर चोट आदि के निशान नहीं थे.

रामगढ़ एसपी के नेतृत्व में एसआईटी

हजारीबाग डीआईजी ने रामगढ़ एसपी के नेतृत्व में एसआईटी टीम का गठन किया है. दोनों पुलिस अधीक्षक की ओर से हजारीबाग मेडिकल छात्रावास की भी पूरी पड़ताल की गई, ताकि पूरे मामले का खुलासा हो सके.

इन सवालों का जवाब ढूंढ रही है पुलिस

-मेडिकल की छात्रा पतरातू डैम तक कैसे पहुंची
-उसकी हत्या डैम के समीप हुई है? या फिर हत्या कर शव को लाकर फेंका गया है
-पूजा हजारीबाग से रांची आने के लिए अजीत बस में बैठी थी, वह बस से कहां उतरी
-पूजा की किन-किन लोगों दोस्ती थी और किनसे दुश्मनी

Related Articles

Back to top button