JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

अंतरिक्ष की उड़ान में मेकॉन ने फिर ऊंचा किया रांची का नाम

रांची के MECON ने विकसित की क्रायोजनिक इंजन टेस्टिंग फैसिलिटी

Ranchi : अंतरिक्ष में भारत की ऊंची उड़ान में रांची स्थित मेकॉन कंपनी ने साझीदारी की एक नयी कहानी लिख डाली है. अंतरिक्ष के क्षेत्र में अपनी क्षमता और ताकत के विस्तार में जुटे इसरो (ISRO) के लिए मेकॉन के इंजीनियरों ने सेमी क्रायोजेनिक टेस्टिंग फैसिलिटी प्रदान करनेवाला देसी इंजन विकसित कर लिया है.

बता दें कि पहले जो क्रायोजनिक इंजन विदेशों से आता था, अब भारत में ही उसका निर्माण भी शुरू हो गया है. रांची स्थित मेकॉन कंपनी ने सेमी क्रायोजनिक इंजन टेस्टिंग फैसिलिटी तैयार की है. देसी इंजन टेस्टिंग फैसिलिटी से अंतरिक्ष में राकेट द्वारा सामान ले जाने की क्षमता में बढ़ोतरी होगी. इस मुश्किल काम को सच कर दिखाया है रांची स्थित भारत सरकार के उपक्रम मेकॉन के इंजीनियरों ने जिसकी बदौलत अब क्रायोजनिक इंजन की टेस्टिंग भारत में ही हो सकेगी.

 

 

इसे भी पढ़ें :हज़ारीबाग : कटकमदाग में माओवादियों ने चिपकाए पोस्टर

Sanjeevani

इसरो के महेंद्रगिरि सेंटर ने सौंपी थी जिम्मेदारी

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन( इसरो) ने मेकॉन को क्रायोजनिक इंजन टेस्टिंग डिज़ाइन तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी थी. महेन्द्रगिरि स्थित इसरो के सेंटर के लिए डिज़ाइन तैयार किया गया है. अब क्रायोजनिक इंजन के टेस्टिंग के लिए दूसरे देशों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा जिससे पैसों की भी बचत होगी. देसी इंजन का जो डिज़ाइन तैयार किया गया है उससे अंतरिक्ष में जाने वाले रॉकेट की सामान ले जाने की क्षमता भी बढ़ जायेगी.

दूसरे देशों पर निर्भरता खत्म होगी

अबतक अंतरिक्ष में जाने वाले रॉकेट सिर्फ चार टन ही सामान ले जा सकता था. अब देसी इंजन बनने से सामान ले जाने की क्षमता छह टन हो जायेगी. इस रॉकेट को अगस्त 2021 में लांच करने की तैयारी हो रही है. मेकॉन के सीएमडी अतुल भट्ट ने कहा इसरो ने मेकॉन को क्रायोजनिक इंजन टेस्टिंग डिज़ाइन तैयार करने की जिम्मेदारी सौंपी थी. महेन्द्रगिरि स्थित इसरो के सेंटर के लिए डिज़ाइन तैयार किया गया है. अब क्रायोजनिक इंजन के टेस्टिंग के लिए दूसरे देशों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा.

इसे भी पढ़ें :दर्दनाक हादसा : गिरिडीह के पीरटांड़ में आग में झुलसे पांच लोग, नाना और नाती की मौत

Related Articles

Back to top button