न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

107 रैंक पर ही भरी रिम्स में एमबीबीएस की सीट, हंगामे के साथ शुरू हुई मेडिकल काउंसिलिंग

342

Ranchi: झारखंड के मेडिकल कॉलेजों की एमबीबीएस, बीडीएस व आयुष चिकित्सा कोर्स में दाखिले के लिए हंगामे के साथ काउंसिलिंग की शुरुआत हुई. एक ही दिन में लगभग 3 हजार विद्यार्थियों को काउंसिलिंग के लिए बुलाया गया था. दोपहर एक बजे तक रिम्स में सामान्य कोटे की एमबीबीएस सीट भर चुकी थी. मौके पर विद्यार्थियों ने काउंसिलिंग में धांधली होने की बात को लेकर हंगामा कर दिया.

देखें वीडियो-

Aqua Spa Salon 5/02/2020

इसे भी पढ़ें – राजधानी रांची की 22 किमी लम्बी मुख्य सड़क में 72 गड्ढे, अधिकांश जानलेवा

बिहार के छात्रों के शामिल होने की कह रहे थे बात

अभिभावकों का आरोप था कि झारखंड कंबाइंड बोर्ड की ओर से जो मेरिट लिस्ट तैयार की गयी है, उसमें अधिकतर  छात्र बिहार के अलावा दूसरे राज्यों के हैं. चूंकि इनकी रैंक अच्छी है, ऐसे में झारखंड के मूल छात्रों की सीट पर ये कब्जा जमा रहे हैं. अभिभावकों ने कहा कि बिहार व झारखंड दोनों ही जगहों पर मेरिट लिस्ट बनाने के लिए आवेदन मंगाये गये थे. जिसमें स्थानीयता प्रमाणपत्र की मांग की गयी थी. एक विद्यार्थी दोनों ही राज्यों में स्थानीयता प्रमाणपत्र प्रस्तुत कर मेरिट लिस्ट में शामिल हो गया है.

Related Posts

 राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में सर्वांगीण विकास होगा, झारखंड को नये आयाम तक पहुंचायेंगे : जगरनाथ महतो

शिक्षा की ज्योति सदैव जलती रहे , इसी उद्देश्य के साथ शिक्षा के क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए नेशनल समिट कम अवार्ड्स ऑन एडुकेशन 2020 का आयोजन एसोचैम की ओर से किया गया.

इसे भी पढ़ें – आम बजट : अमीरों पर टैक्स बढ़ा, मीडिल क्लास का टैक्स स्लैब नहीं बदला, बिजली, पानी पर फोकस

रिम्स व एमजीएम की एमबीबीएस जेनरल सीट भरी

खबर लिखे जाने तक रिम्स रांची व एमजीएम जमशेदपुर की एमबीबीएस जेनरल कोटे की सीटें भर चुकी थीं. काउंसिलिंग से बाहर निकल रहे विद्यार्थियों ने बताया कि रिम्स में एमबीबीएस जेनरल कोटे की सीट 107 रैंक पर ही भर गयी थी. पीएमसीएच धनबाद में सात सीटें खाली थीं. रिम्स के डेंटल कॉलेज में 16 सीटें सामान्य कोटे के विद्यार्थियों के लिए बची हुई थीं.

इसे भी पढ़ें – झारखंड सरकार की टेक्सटाइल नीति के तहत लगी हैं तीन इंडस्ट्रीज, एक का उद्घाटन अगले माह : के रविकुमार

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like