न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सेवानिवृत्त कर्मचारियों की पुनः नियुक्ति पर रोक लगाने को लेकर मेयर ने सीएम को लिखा पत्र

494

Ranchi : रांची की मेयर आशा लकड़ा ने मुख्यमंत्री रघुवर दास को पत्र लिखकर सरकार से पेंशन प्राप्त कर रहे लोगों को पुनः किसी विभाग में निविदा पर नियुक्त नहीं किये जाने की मांग की है. अपने पत्र में उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा है कि रांची की मेयर होने के नाते उन्होंने अपने अधिकार क्षेत्रवाले रांची नगर निगम में सेवानिवृत्त हुए सभी कर्मचारियों की पुनः संविदा पर होनेवाली नियुक्ति पर रोक लगा दी है. ऐसा करने के पीछे उनका उद्देश्य ऐसे कर्मचारियों के दोहरे लाभ लेने पर भी रोक लगाने के साथ-साथ हजारों शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों को रोजगार दिलाना और राज्य के विकास कार्यों को गति देना है.

मेयर आशा लकड़ा ने सीएम को लिखा पत्र
मेयर आशा लकड़ा द्वारा मुख्यमंत्री को लिखा गया पत्र,

इसे भी पढ़ें- मृत्यु प्रमाणपत्र के लिए हिंदी में आवेदन नहीं लेता RMC, यह राष्ट्रभाषा का अपमान है, हिंदी में भी लें…

पूर्व कार्यालय अधीक्षक से उठा था मामला

मालूम हो कि कुछ दिनों पहले ही निगम के पूर्व कार्यालय अधीक्षक नरेश कुमार सिन्हा को सेवा विस्तार दिये जाने के बाद ही यह मामला सामने आया था. शहर के कुल 53 वार्ड पार्षदों में से करीब 43 पार्षदों का इस मामले पर मेयर आशा लकड़ा से विवाद हुआ था. जहां मेयर आशा लड़का नरेश कुमार सिन्हा को सेवा विस्तार देने के पक्ष में नहीं थीं, वहीं उपरोक्त सभी पार्षद इस मांग पर अड़े हुए थे. पार्षद इस पर मेयर से बोर्ड की एक विशेष बैठक बुलाने की मांग पर अड़े हुए थे. वहीं, मेयर ने कहा था कि कार्यालय अधीक्षक नरेश कुमार सिन्हा के सेवा विस्तार का प्रस्ताव नगरपालिका अधिनियम 2011 के खिलाफ है. इस प्रस्ताव को निगम बोर्ड की बैठक में नहीं लाया जा सकता. किसी भी सरकारी कर्मचारी को सेवा विस्तार देने का अधिकार निगम बोर्ड को नहीं है.

इसे भी पढ़ें- राजकीय शोक के दौरान विधायक बबीता देवी ने प्रखंड कार्यालय परिसर में किया शिलान्यास

hotlips top

संविदा पर होनेवाली नियुक्ति पर रोक लगाये सरकार

मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में मेयर आशा लकड़ा ने कहा है कि जुलाई से अब तक करीब 25 सेवानिवृत्त कर्मचारी, जो राज्य या केंद्र सरकार से पेंशन प्राप्त कर रहे हैं, उनकी निगम के अंदर संविदा पर नियुक्ति किये जाने पर उन्होंने रोक लगा दी है. उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि इस तरह की रोक सरकार के अन्य विभागों पर भी लगाया जाना जरूरी है, ताकि पेंशन ले रहे ऐसे कर्मचारियों के संविदा पर कार्य कर वेतन लेने के दोहरे लाभ को रोका जा सके.

इसे भी पढ़ें- 6th JPSC : PT पास 17317 छात्रों की बढ़ी परेशानी, आयोग को चाहिए ऑफलाइन कास्ट सर्टिफिकेट, जो सरकार देती…

30 may to 1 june

बेरोजगारों को मिलेगा रोजगार

पत्र के माध्यम से उन्होंने कहा कि वर्तमान में नयी पीढ़ी के हजारों ऐसे शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियां हैं, जिन्हें अब तक रोजगार नहीं मिल सका है. अगर सरकार उनके सुझाव पर कोई ठोस निर्णय लेती है, तो इससे ऐसे बेरोजगारों को रोजगार मिल सकेगा. साथ ही, सरकार के विकास कार्यों को भी गति मिल सकेगी.

इसे भी पढ़ें- सरकार के साथ IAS व IPS अफसरों का बना रहा गतिरोध, चहेतों की बेहतर पोस्टिंग के कारण कई अफसर कर चुके…

निगम में और भी हैं ऐसे कर्मचारी

मालूम हो कि नरेश कुमार की सेवानिवृत्ति के बाद निगम में अभी भी कुछ ऐसे कर्मचारी हैं, जिनकी सेवा अगले कुछ माह में समाप्त होनेवाली है. इसमें जल बोर्ड के सुबोध कुमार सिन्हा, स्थापना शाखा में शिवमुनि साहू, गोपनीय शाखा में जय कुमार शामिल हैं. ऐसे में सेवानिवृत्ति के बाद इन्हें और सेवा विस्तार नहीं दिया जाना तय है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like