Education & CareerJharkhandLead NewsRanchi

मैट्रिक-इंटर परीक्षा नये पैटर्न पर होगी, आब्जेक्टिव प्रश्नों की संख्या अधिक होगी

  • शिक्षा विभाग ने जैक को इस संबंध में प्रस्ताव बनाने का दिया निर्देश

Ranchi: मैट्रिक-इंटर की परीक्षा नये पैटर्न पर आयोजित करने की तैयारी की जा रही है. शिक्षा विभाग ने इस संदर्भ में झारखंड एकेडमिक काउंसिल को पत्र लिख इसके लिए प्रस्ताव तैयार करने का निर्देश दिया है.

कोरोना संकट को देखते हुए विभाग ने दूसरे राज्यों के अपनाये जाने वाले पैटर्न का अध्ययन कर अब प्रश्नों का स्वरूप बदलने का निर्णय लिया है. इस बार ऑब्जेक्टिव प्रश्नों की संख्या भी अधिक होगी ताकि परीक्षार्थियों को अधिक परेशानी ना हो.

इसे भी पढ़ें : कोरोना काल में सिख समुदायों ने निभायी अहम भूमिका : हेमंत सोरेन

इसके अलावा यह भी निर्णय लिया गया है कि बच्चों को सब्जेक्टिव प्रश्नों में भी अधिक से अधिक विकल्प दिए जायेंगे. इस नये पैटर्न के साथ मॉडल प्रश्न पत्र जैक की वेबसाइट पर अपलोड किये जायेंगे. जैक ने बताया कि प्रस्ताव बनाने का निर्देश दिया गया है.

इसमें नए संशोधित सिलेबस के अनुसार प्रश्नों का रूप अलग हो सकता है. इन सारी चीजों का एक बार फिर अध्ययन करने के बाद ही अंतिम प्रस्ताव बनाया जायेगा. उसके बाद ही इसकी जानकारी छात्रों को दी जाएगी.

इसे भी पढ़ें : शराब और जमीन माफियाओं पर कसेगी नकेल, लगाया जायेगा सीसीए, माफियाओं का तैयार होगा डाटा बेस

राजस्थान और ओडिशा के पैटर्न का किया गया अध्ययन

कोरोना काल में झारखंड सहित देश के कई राज्यों ने सिलेबस में भारी कटौती की है. सीबीएसई ने भी सिलेबस में कटौती की है. राज्य के शिक्षा विभाग ने अभी तक राजस्थान और ओडिशा बोर्ड द्वारा लिए जा रहे फैसलों का अध्ययन कर यह निर्णय लिया है.

इसे भी पढ़ें : यात्रीगण कृपया ध्यान दें, रांची से बिहार और बंगाल जानें वालीं 10 फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें अब 30 दिसंबर तक चलेंगी

बोर्ड परीक्षा में 60 फीसदी सिलेबस से ही प्रश्न पूछे जायेंगे

मालूम हो कि इस बार बोर्ड परीक्षा में 60 फीसदी सिलेबस से ही प्रश्न पूछे जायेंगे. इसकी पूरी जानकारी लर्नेटिक्स ऐप के माध्यम से भी छात्रों को मिल सकेगी. लर्नेटिक्स ऐप में फिलहाल नौवीं से 12 तक के बच्चों के लिए सेशोधित सिलेबस के अनुसार प्रश्न व उत्तर दिए गए हैं. साथ ही हर विषय के लिए वीडियो के माध्यम से भी पढ़ाने की सुविधा है. इसमें मुख्य रूप से एनसीईआरटी के वीडियो को शेयर किया गया है. साथ ही हर पाठ के लिए विस्तार से जानकारी देने का प्रयास किया गया है. छात्र किसी भी समस्या को लेकर ऑनलाइन सवाल भी भेज सकेंगे.

इसे भी पढ़ें : 20 दिसंबर से शुरू होगी रांची-अहमदाबाद विमान सेवा, व्यापारियों को मिलेगी राहत

दिसंबर तक जारी हो जाएगा मॉडल प्रश्न पत्र

संशोधित सिलेबस के अनुसार नये प्रश्नों के स्वरूप में मॉडल प्रश्न पत्र दिसंबर के दूसरे सप्ताह के बाद उपलब्ध हो जाने की उम्मीद है. अभी जैक इसके स्वरूप को लेकर प्रस्ताव भेजेगा. उसके बाद विभाग की अनुमति मिलने के बाद ही मॉडल प्रश्न पत्र अपलोड हो सकेगा.

मैट्रिक-इंटर की परीक्षा अगले वर्ष मार्च में आयोजित होगी. जबकि इस सत्र में बच्चों की पढ़ाई काफी प्रभावित हुई है. इस कमी को दूर करने के लिए मॉडल प्रश्न पत्र ही छात्रों का अब सहारा होगा. ताकि वे परीक्षा की तैयारी समय रहते अच्छे तरीके से कर सकें.

इसे भी पढ़ें : राजधानी एक्सप्रेस से छह नाबालिग बच्चियों को आरपीएफ की नन्हे फरिश्ते टीम ने रेस्क्यू किया

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: