न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मथुरावासियों ने कहा बंदरों से हैं परेशान, CM की सलाह- करें हनुमान चालीसा पाठ

हनुमान जी की नियमित पूजा करें व हनुमान चालीसा का पाठ करें, जिससे बंदर उन्हें नुकसान नहीं पहुंचाएंगे.

249

Mathura: बंदरों के हमलों से बचने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मथुरा-वृन्दावन वासियों को सुझाव दिया है कि वे हनुमान जी की नियमित पूजा करें व हनुमान चालीसा का पाठ करें, जिससे बंदर उन्हें नुकसान नहीं पहुंचाएंगे. मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश के पर्यटन विभाग द्वारा शुक्रवार शाम को वृन्दावन के अक्षय पात्र परिसर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए आए थे.

इसे भी पढ़ेंःराज्य के प्रधान मुख्य वन संरक्षक संजय कुमार की बोलती बंद, जनसंवाद में आरोपी अफसर पर नहीं दे पाये सही जवाब, सीएम बोले हटाओ डीएफओ को

 हनुमान चालीसा पाठ करने की दी सलाह

hosp3

मामला यह है कि श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के उपलक्ष्य में आयोजित एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी उपस्थित थे. इसी दौरान कुछ स्थानीय नागरिकों ने उनसे मिलकर क्षेत्र में बंदरों से परेशान होने की शिकायत की. इस पर योगी ने लोगों को हनुमान चालीसा पाठ करने की सलाह देते हुए उन्हें बंदरों पर अत्याचार करने से बचने का भी सुझाव दिया.

इसे भी पढ़ेंःअब आतंकियों के निशाने पर पुलिसकर्मियों के परिजन ! पांच लोगों को किया अगवा

 बंदरों को भगाने का काम मत करो

उन्होंने इस बारे में अपना अनुभव साझा करते हुए कहा कि गोरखपुर में उनके कार्यालय में एक बंदर उनकी गोद में आकर बैठ जाता था. उन्होंने उसे केला दिया. अगले दिन से बंदर रोज आने लगा और वह उसे फल देते थे.

योगी ने कहा कि एक बार एक कार्यकर्ता ने पूछ लिया कि आपने बंदर को गोद में क्यों बैठा रखा है. उन्होंने कहा कि अगले दिन जब वह कार्यकर्ता आया तो बंदर उसकी ओर हमला करने वाला था. यह देखकर उन्होंने बंदर को डांटा तो वह पेड़ पर चढ़ गया. योगी ने कहा कि इस तरह के प्यार वाले व्यवहार से बंदर का स्वभाव बदल गया. इसलिए बंदरों को भगाने का काम मत करो. बंदर से प्रेम करोगे तो वे आपके लिए समस्या नहीं, बल्कि लाभदायक हो जाएंगे.

इसे भी पढ़ेंःबोकारो डीसी के फैसले से सरकार को होता 3.5 करोड़ का नुकसान, जिसे मिली थी कौड़ी के भाव जमीन उसी ने बढ़ायी बोली 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: