GiridihJharkhand

सुविधाओं के प्रसूता और नवजात की मौत, गिरिडीह न्यायालय ने लिया संज्ञान

Giridih: गांव और तिसरी के बीच लक्ष्मीबथान गांव में प्रसूता और उसके नवजात के मौत के मामले को जिला विधिक सेवा प्राधिकार ने भी गंभीरता से लिया. इसी क्रम में शनिवार को गिरिडीह की प्रधान जिला और सत्र न्यायाधीश वीणा मिश्रा ने मृतिका के परिजनों को अनाज के साथ कपड़े उपलब्ध कराया.

प्रधान जिला एंव सत्र न्यायाधीश के साथ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव संदीप और उप समाहर्ता सुदेश कुमार भी मौजूद थे. इस दौरान जिला एंव सत्र न्यायाधीश वीणा मिश्रा ने प्रभावित परिवार को सुखा अनाज के साथ चावल, दाल आलू समेत कपड़े भी उपलब्ध कराये.

जिला एंव सत्र न्यायाधीश वीणा मिश्रा ने घटना पर अफसोस जताते हुए सिस्टम की वजह से गांवा के स्वास्थ्य केंद्र में कोई डॉक्टर तक नहीं था. जो सुरजी और उसके नवजात का इलाज कर सके. प इलाज नहीं मिलने के कारण ही जच्चा और बच्चा की मौत हो गई थी.

इसके बाद जिला प्रशासन भी हरकत में आई और आनन-फानन में प्रशासन ने सुविधाओं के लिए एक साथ विभाग को पत्राचार कर दिया.

इसे भी पढ़ें : प. बंगाल चुनाव: BJP ने ममता के खिलाफ शुभेंदु अधिकारी को उतारा, 57 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: