न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रुपे पेमेंट सिस्टम से मात खाये मास्टर कार्ड ने ट्रंप से की मोदी की शिकायत  

भारत के एक बिलियन डेबिट और क्रेडिट कार्ड में से आधे से अधिक अब रुपे पेमेंट सिस्टम के तहत काम कर रहे हैं.

41

 NewDelhi  : न्यूयॉर्क स्थित कंपनी मास्टर कार्ड भारतीय पेमेंट नेटवर्क रुपे से परेशान है. मास्टर कार्ड ने अमेरिका की ट्रंप सरकार से इसकी शिकायत की है. दरअसल मास्टर कार्ड ने जून महीने में  भारत के पीएम नरेंद्र मोदी की शिकायत अमेरिकी सरकार से की है. बता दें कि रॉयटर ने एक डॉक्यूमेंट के हवाले से जानकारी दी है कि मास्टर कार्ड ने डोमेस्टिक पेमेंट नेटवर्क के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए पीएम मोदी द्वारा राष्ट्रवाद के उपयोग पर अपनी आपत्ति दर्ज की है.  खबरों के अनुसार मेादी सरकार की पॉलिसी की वजह से विदेशी पेमेंट कंपनी को ठेस पहुंची है.  जान लें कि मोदी सरकार ने अपने कार्यकाल में भारतीय पेमेंट नेटवर्क रुपे को बढ़ावा दिया है.  इसके असर से अमेरिकी की दिग्गज पेमेंट कंपनियां मास्टर कार्ड और वीजा का दबदबा कम हुआ है.  जानकारी के अनुसार भारत के एक बिलियन डेबिट और क्रेडिट कार्ड में से आधे से अधिक अब रुपे पेमेंट सिस्टम के तहत काम कर रहे हैं.

इससे मास्टर कार्ड परेशान है. मास्टर कार्ड केा इस बात से परेशानी है कि पीएम मोदी ने स्वदेशी कार्ड पेमेंट नेटवर्क को लागू किया और कहा कि रुपे कार्ड देश की सेवा कर रहा है. इसके ट्रांजेक्शन से मिलने वाले शुल्क से देश में सड़क, स्कूल और अस्पताल के निर्माण में सहायता मिलती है.

इसे भी पढ़ें : दोषी करार नेताओं पर आजीवन प्रतिबंध लगाने की याचिका पर सुनवाई को तैयार SC

palamu_12

मोदी राष्ट्रवाद के साथ रुपे कार्ड को जोड़ रहे हैं

मास्टर कार्ड ने 21 जून को  पीएम मोदी के द्वारा रुपे कार्ड को बढ़ावा देने के संदर्भ का हवाला देते हुए  संयुक्त राज्य व्यापार प्रतिनिधि (यूएसटीआर) को लिखा कि मेादी राष्ट्रवाद के साथ रुपे कार्ड को जोड़ रहे हैं और दावा कर रहे हैं कि इस कार्ड का उपयोग एक प्रकार से राष्ट्र सेवा है. बता दें कि मास्टर कार्ड के वाइस-प्रसिडेंट सहारा इंग्लिश ने भेजे गये नोट के माध्यम से कहा कि पीएम मोदी का  डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने का प्रयास सराहनीय था, लेकिन भारत सरकार द्वारा वैश्विक कंपनियों के नुकसान के लिए संरक्षणवादी उपायों की एक श्रृंखला बनाये जाने से  अमेरिकी कंपनियां मोदी सरकार की संरक्षणवादी नीतियों की वजह से जूझ रही है.  इसके अलावा रॉयटर्स ने एक अन्य नोट के हवाले से बताया, मोदी सरकार द्वारा रुपे को बढ़ावा दिये जाने की वजह से मास्टर कार्ड  काफी निराश है.  मास्टर कार्ड के अनुसार रुपे को बढ़ावा देने के लिए पीएम मोदी और उनकी सरकार द्वारा किये जा रहे उपायों से अमेरिकी पेमेंट टेक्नोलॉजी कंपनियों को बाजार में पहुंच बनाने में समस्या पैदा हो रही है. मास्टर कार्ड  पूरी दुनिया में दूसरी सबसे बड़ी पेमेंट प्रोसेसर है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: