न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

श्मशान घाट की जमीन पर बन रहे पार्क का भारी विरोध, मौके पर मिलीं हड्डियां

1 करोड़ 31 लाख की लागत से बन रहा पार्क

816

Giridih : गिरिडीह में शमशान घाट पर बन रहे पार्क का स्थानीय नागरिकों ने विरोध शुरू कर दिया है. शहर के शास्त्री नगर स्थित उसरी नदी घाट पर बन रहे चिल्ड्रेन पार्क के विरोध में लोगों ने जोरदार प्रदर्शन किया.

पार्क निर्माण का विरोध करते लोग

इसे भी पढ़ेंः शिक्षक ने छात्रा को बेरहमी से पीटा, पीने को पानी भी नहीं दिया, मामला दर्ज

श्मशान घाट पर पार्क बनाने का आरोप

शास्त्री नगर, भण्डारीडीह, चैताडीह, पेसरागढ़ा और 18 नंबर वार्ड के नागरिकों का कहना है कि वर्षों से इस घाट का श्मशान स्थल के रूप में इस्तेमाल होता आ रहा है. एक बड़ी आबादी यहां अंतेष्टि का कार्य करते आ रही है. नगर निगम और ठेकेदार मिलकर इस शमशान घाट का अतिक्रमण कर यहां पार्क बना रहे हैं. शमशान घाट नहीं रहने पर यहां के निवासी शवदाह के लिए कहां जाएंगे. विरोध करने वाले लोगों का कहना है कि वे किसी भी कीमत पर यहां पार्क नहीं बनने देंगे. लोगों का कहना है कि यह हमारा पारंपरिक शमशान घाट है.

निर्माण के दौरान मिली हड्डियां

हाथों में हड्डियां लिए विरोध करते स्थानीय नागरिक

विरोध कर रहे लोगों ने पार्क निर्माण स्थल पर खुदाई में मिली हड्डियों को भी दिखाया. उन्होंने कहा कि ये यहां दफनाएं गए शव के सबूत है. यह हड्डियां किसी बच्चे के हो सकते हैं. विरोध कर रहे लोगों ने हाथों में हड्डियां लेकर प्रदर्शन किया और पार्क नहीं बनाने की बात कही.

डीसी और एसडीओ को ज्ञापन

पार्क निर्माण के विरोध की अगुवाई कर रही जिला परिषद सदस्य और झामुमो नेत्री प्रमिला मेहरा ने कहा कि शमशान घाट का अतिक्रमण कर गलत तरीके से पार्क बनाया जा रहा है. जिसका हमलोग पुरजोर विरोध करेंगे. उन्होंने बताया कि इस मामले पर उपायुक्त और एसडीओ को ज्ञापन भी सौंपा जा रहा है, ताकि उचित जांच और कार्रवाई कर इस शमशान घाट को बचाया जा सके.

 

पार्क निर्माण को लेकर लगा शिलापट्ट

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: