Crime News

रांचीः टाटीसिल्वे और तुपुदाना क्षेत्र से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

विज्ञापन

Ranchi: रांची पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए तुपुदाना और टाटीसिलवे इलाके में छापेमारी कर भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया है. बरामद विस्फोटकों में डेटोनेटर, कोडेक्स वायर शामिल हैं. रांची एसएसपी अनीश गुप्ता को मिली गुप्त सूचना के आधार पर टाटीसिल्वे थाना प्रभारी संतोष कुमार व तुपुदाना थाना प्रभारी तारिक अनवर ने कार्रवाई करते हुए भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के IAS, IPS, IFS के नाम चिट्ठी, क्यों आप ऐसे हो गये ???

साथ ही पुलिस ने शमशाद अंसारी नाम के व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया. वहीं एक व्यक्ति मौके से भागने में सफल रहा. आशंका जतायी जा रही है कि बरामद हुए विस्फोटक नक्सलियों तक पहुंचाये जाने थे हालांकि मामले की जांच के बाद ही इसका खुलासा हो पायेगा.

advt

ऑटो में विस्फोटक ले जाने की मिली थी सूचना

एसएसपी अनीश गुप्ता को गुप्त सूचना मिली थी कि एक ऑटो में विस्फोटक ले जाया जा रहा है. वरीय अधिकारियों के निर्देश पर टाटीसिलवे थाना प्रभारी संतोष कुमार ने महिलौंग क्षेत्र से ऑटो को पकड़ा. ऑटो में भारी मात्रा में विस्फोटक लदा हुआ था. पूछताछ में ऑटो चालक शमशाद अंसारी की निशानदेही पर टाटीसिल्वे थाना प्रभारी और तुपुदाना थाना प्रभारी तारिक अनवर ने तुपुदाना क्षेत्र के बालसिरिंग के एक घर से भी विस्फोटक बरामद किया.

नक्सलियों तक पहुंच रहे खनन में उपयोग होनेवाले विस्फोटक

झारखंड में बड़े पैमाने पर शहरी क्षेत्रों से नक्सली समर्थकों के द्वारा विस्फोटक नक्सलियों तक पहुंचाया जा रहा है. इस बात का खुलासा हाल के महीने में नक्सलियों तक पहुंचने से पहले बरामद हुए भारी मात्रा में विस्फोटक से होता है. पुलिस के लिए सबसे बड़ी चुनौती व चिंता यह है कि खनन में प्रयुक्त होनेवाला विस्फोटक नक्सलियों तक पहुंच रहा है. खनन क्षेत्र के विस्फोटक नक्सलियों तक पहुंचने से रोकना पुलिस के लिए अब चुनौती बन गयी है.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के बाजार में खपाया जा रहा है जाली नोट, रांची पुलिस ने जाली नोट के साथ दो सप्लायर को किया गिरफ्तार

नक्सली समर्थक पहुंचा रहे हैं विस्फोटक

नक्सली जंगलों में रह कर तो पुलिस को चुनौती दे ही रहे हैं. साथ ही साथ अब शहरों में भी रह कर अपना संगठन चला रहे हैं. शहरों में उनकी गतिविधियां बढ़ रही हैं. शहरों में नाम बदल कर रह रहे नक्सली और उनके समर्थक पहचान बदल कर किराये के मकान में रहते हैं और वह दिन भर पुलिस की गतिविधियों की जानकारी हासिल करते हैं.

adv

फिर संगठन के एरिया कमांडर को इसकी जानकारी देते हैं. इतना ही नहीं ये समर्थक नक्सलियों को विस्फोटक, हथियार और गोली पहुंचाने का काम भी कर रहे हैं. हालांकि इस समस्या के समाधान के लिए पुलिस अपने स्तर से हर संभव कार्रवाई कर रही है.

हाल के दिनों में बरामद हुए विस्फोटक

  • 3 अगस्त 2019 को रांची पुलिस ने नगड़ी के बांदूबेड़ा गांव से विस्फोटकों का जखीरा जब्त किया था. इसमें 37 कार्टन जिलेटिन, 25 कार्टन डेटोनेटर और 10 बोरा यूरिया शामिल था.
  • 4 जून 2019 को कार समेत लापता बताये जा रहे रामगढ़ के अधिवक्ता रोबा कॉलोनी रांची रोड निवासी मिथिलेश कुमार सिंह को गया जिले की पुलिस ने विस्फोटक के साथ गिरफ्तार किया. यह विस्फोटक नक्सलियों तक पहुंचाया जा रहा था.
  • 9 मार्च 2019 को बोकारो में वाहन चेकिंग के दौरान एक गाड़ी से भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद हुआ थे.

इसे भी पढ़ें – BHEL, SAIL, HAL में Leave Encashment पर रोक की खबर, #BSNL काट रही है वेतन, आर्थिक मंदी का असर !

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button