न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जापान में मूसलाधार बारिश और भूस्खलन से भारी तबाही, 48 की मौत, कई लापता  

402

Tokyo : जापान में शुक्रवार सवेरे से लेकर शनिवार तक मूसलाधार बारिश और भूस्खलन से भारी तबाही हुई है. खबरों के अनुसार जापान का दक्षिण पश्चिम क्षेत्र बाढ़ और मूसलाधार बारिश से बुरी तरह से प्रभावित है. बारिश और भूस्खलन से 48  लोगों की मौत होने की खबर है और कई अन्य गंभीर रूप से घायल हुए है, जबकि कई लोग लापता हैं. जानकारी के अनुसार हिरोशिमा से 300 किलोमीटर पूर्व में मौजूद क्योटो में भी मूसलाधार बारिश जारी है. जापान की समाचार एजेंसी के अनुसार भूस्खलन के कारण कई लोग ज़िंदा दफ़न हो गये हैं.

टोक्यो से 600 किलाेमीटर दूर ओकायामा शहर में 583 मिलीमीटर बारिश

जापान के मौसम विभाग के अनुसार राजधानी टोक्यो से करीब 600 किलाेेमीटर दूर ओकायामा शहर में शुक्रवार सवेरे से लेकर शनिवार सुबह तक 583 मिलीमीटर बारिश हुई है. आने वाले कुछ दिनों में यहां और बारिश होने की आशंका है. यहां के स्थानीय निवासी मानाबू ताकेशिता का कहना है कि नदी के किनारे रहने वालों के लिए चिंता बढ़ना लाजिमी है क्योंकि तूफान का मौसम अभी शुरू हुआ है. क्योडो के अनुसार 47.2 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाये जाने के  परामर्श भेजे गये थे और आत्मरक्षा बलों, पुलिस और अग्निशमन के 48,000 सदस्य तलाशी अभियान में लगे हुए हैं.

प्रभावित क्षेत्रों में पानी पांच मीटर की ऊंचाई तक पहुंच गया है

एक वीडियो फुटेज में ओकायामा में एक आवासीय क्षेत्र दिखाया गया है जो भूरे रंग के पानी में एक विशाल झील की तरह नजर आ रहा है. कुछ लोग घरों की छतों और बालकनी में चले गये है. यहां भूस्खलन से एक व्यक्ति की मौत हो गयी और छह अन्य लापता है. एनएचके टीवी ने बताया कि प्रभावित इलाकों में खड़ी कारें जलमग्न हो गयी हैं और प्रभावित क्षेत्रों में पानी पांच मीटर (16 फुट) की ऊंचाई तक पहुंच गया है. हिरोशिमा में भूस्खलन से एक व्यक्ति की मौत हो गयी, जबकि बाढ़ग्रस्त इलाके से एक बच्चे का शव भी बरामद हुआ है.

बारिश से प्रभावित एक अन्य प्रांत यामागुची में लोगों से सावधानी बरतने और तेजी से कदम उठाने को कहा गया है. इनमें से अधिकांश मौतें हिरोशिमा प्रीफेक्चर में हुई हैं जहां गुरुवार से ही मूसलाधार बारिश हो रही है. यहां बारिश के कारण सैंकड़ों घरों को भी नुक़सान पहुंचा है. लापता लोगों की तलाश और राहत और बचाव कार्य में हज़ारों की संख्या में पुलिस कर्मचारी, अग्निशमन कर्मचारी और सैनिक लगाये गये हैं.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: