न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पहली सोमवारी को बासूकीनाथ धाम में उमड़ा श्रद्धालुओं का जनसैलाब

360

Dumka : मासव्यापी श्रावणी मेला के तीसरे दिन पहली सोमवारी को बासुकिनाथ धाम में श्रद्धालुओं का जनसैलाब देखने को मिला. देर रात्रि से श्रद्धालु कतारबद्ध होते दिखाई दे रहे थे. बासूकिनाथ धाम स्थित शिवगंगा भी पूरी तरह से श्रद्धालुओं से पटा पड़ा था. केसरिया रंग के वस्त्र में श्रद्धालु बोल बम के नारों के साथ अपने छोटे-छोटे कदमों से मंदिर प्रांगण की ओर बढ़ रहे थे.

इसे भी पढ़ेंः दर्दनाकः आर्थिक तंगी ने ली एक परिवार की जान ! रांची में परिवार के सात लोगों ने की खुदकुशी

डीसी मुकेश कुमार पूरे मेला क्षेत्र के विधि व्यवस्था पर बनाये हुए थे नजर

श्रद्धालुओं से बात करते उपायुक्‍त

वहीं जिला प्रशासन की पूरी टीम श्रद्धालुओं को सुगमता पूर्वक जलार्पण करने के लिये तत्पर दिखाई दे रही थी. सरकारी पूजा प्रातः 2 बजकर 57 मिनट पर शुरू हुआ. वहीं पवित्र आस्था के लोटे में गंगाजल लिए श्रद्धालू पूजा-अर्चना के बाद 3 बजकर 33 मिनट से बाबा फौजदारी नाथ पर अर्घा सिस्टम के माध्यम से जलार्पण कर रहे थे. डीसी मुकेश कुमार पूरे मेला क्षेत्र के विधि व्यवस्था पर देर रात्रि से ही अपने नजर बनाये हुए थे. साथ ही डीसी मुकेश कुमार वाटसअप पर लगातार अधिकारियों को कई महत्वपूर्ण निर्देश दे रहे थे. प्रशासनिक भवन में प्रतिनियुक्त अधिकारी लागतार वॉकी- टॉकी के माध्यम से सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे थे. देर रात्रि से सभी प्रतिनियुक्त सुरक्षा कर्मी अपने कर्तव्य स्थल पर उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंः  अखबार ने 2017 के सर्वे को ताजा सर्वे बताकर रघुवर दास को बताया सबसे पसंदीदा मुख्यमंत्री

मेले में कर्मी सुबह से ही दिखे तत्पर

वहीं विभिन्न स्वास्थ्य केंद्रों में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी, कर्मी जरूरी दवाइयों के साथ श्रद्धालुओं की सेवा में तत्पर थे. ध्वनि विस्तारक यंत्र के माध्यम से बिछड़ों को मिलाया जा रहा था. सूचना सहायता कर्मी भी सुबह सवेरे से अपने कर्तव्य पर तत्पर दिखे. सफाई कर्मी पूरे मेला क्षेत्र की साफ-सफाई में लगे हुए थे. डीसी कुमार, सिंह द्वार से सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से मेला क्षेत्र के विभिन्न गतिविधियों को देख रहे थे. पूर्व सांसद अभय कांत प्रसाद एवं स्थानीय विधायक बादल पत्रलेख भी सिंह द्वार पर उपस्थित थे. जिला प्रशासन की जबरदस्त व्यवस्था का ही परिणाम है कि श्रद्धालु सुगमता पूर्वक जलार्पण कर रहे थे. उन्हें बहुत देर तक बाबा पर जलार्पण करने के लिए कतार में खड़ा नहीं होना पड़ रहा था.

palamu_12

इसे भी पढ़ेंः मेयर ने पार्षदों से मांगा स्पष्टीकरण, कहा ‘बार-बार बैठक बुलाने की जगह करें काम’

बासुकीनाथ धाम में पहले सोमवारी को 75 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने किया जलार्पण

श्रावणी मेला के तीसरे दिन दर्शनार्थियों की कुल संख्या 75, 200 रही. जलार्पण कांउटर से 12, 100 श्रद्धालुओं ने जलार्पण किया. शीघ्र दर्शनम से 1132 श्रद्धालुओं ने जलार्पण किया. गोलक से प्राप्त कुल राशि 1, 34,650 रुपये, दान पत्र से प्राप्त राशि 2268 रुपये, चांदी का सिक्का 10 ग्राम का 2 बिक्री हुआ. चांदी का समाग्री गोलक से 78 ग्राम प्राप्त हुआ.

इसे भी पढ़ेंःरांची ‘सुसाइड’ कांड में पुलिस की थ्योरी- दीपक और उसके भाई ने पहले परिवार के पांच सदस्यों की हत्या की, फिर दोनों ने लगा ली फांसी

इसे भी पढ़ेंः केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने जिस जरबा गांव को गोद लिया, वहां की सड़कें बदहाल

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: