BiharCrime News

नवादा में दहेज के लिए विवाहिता को जिंदा जलाया

Nawada: जिले में दहेज के लिए नवविवाहिता को जिंदा जलाने का मामला सामने आया है. घटना शाहपुर थाना क्षेत्र के महारथ काशीचक गांव की है. दहेज दानवों ने पहले महिला का हाथ पैर बांध दिया और उसके बाद उसे जिंदा जला दिया. महिला की चीख पुकार पड़ोसियों तक नहीं पहुंचे इसके लिए महिला के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया.

शनिवार को आरोपियों ने बुरी तरह से झुलसी महिला को अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. मृतका की पहचान कोमल के रूप में की गई है. घटना को अंजाम देने के बार ससुराल वालों ने कोमल के मायके फोन कर जानकारी दी कि कुकर फटने के कारण कोमल जल गई है. आनन-फानन में मायके वाले अस्पताल पहुंचे जिसके बाद सभी ससुरालवाले मृतका के एक साल के बच्चे को लेकर फरार हो गए.

इसे भी पढ़ें :  इंटरलॉकिंग की वजह से कई ट्रेनों को किया गया रद्द, कई रूट्स में बदलाव

Catalyst IAS
ram janam hospital

लखीसराय के कजरा थाना क्षेत्र के अरमा बंसीपुर गांव निवासी कोमल के भाई राहुल के मुताबिक साल 2019 में बड़े ही धूमधाम से कोमल की शादी कृष्णा कुमार से की हुई थी. ससुरालवालों की मांग के अनुसार दहेज भी दिया गया था. लेकिन इसके बावजूद कोमल पर मायके से दहेज लाने के लिए दबाव बनाया जाता था. मृतका के भाई ने बताया कि जब उसकी शादी हुई थी तो बहनोई ने स्कॉर्पियो की मांग की थी. मना करने पर उसकी बहन के साथ मारपीट की गई. मृतका का ससुर समस्तीपुर में दारोगा के पद पर कार्यरत है. जिसका धौंस दिखाकर ससुरालवालों द्वारा अक्सर दहेज की मांग की जाती थी.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

मृतका के मायके वालों ने बताया कि उन्हें घटना की जानकारी पड़ोसियों से मिली. पड़ोसियों के मुताबिक कोलम का हाथ और पैर रस्सी से बांधा हुआ था. मुंह में रुमाल ठूंस दिया गया था, ताकि उसकी चीख और पुकार किसी को सुनाई न दे. इसके बाद पूरी कहानी को कुकर फटने से जोड़ दिया गया. मृतका के परिजनों ने ससुरालवालों पर दहेज के लिए कोमल की हत्या करने का आरोप लगाया है.

इसे भी पढ़ें : औरंगाबाद में नक्सली नवीन राम को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button