HazaribaghJharkhand

ग्रामीणों और प्रशासन की मदद से रुकी 14 साल की बच्ची की शादी

Hazaribagh : हजारीबाग जिला के बड़कागांव प्रखंड में 14 साल की एक बच्ची की शादी का मामला सामने आया है. इस बात का पता जब समाजसेवियों और जागरूक ग्रामीणों को हुई तो इसकी सूचना बीडीओ, जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी और चाइल्ड लाइन को दी गयी.

Sanjeevani

सूचना पर जिला से लेकर प्रखंड तक अधिकारी सतर्क हो गए और विवाह को रोकने के लिए तत्काल मौके पर दल-बल के साथ पहुंचे. जिसके बाद शादी को रोक दिया गया.

MDLM

मौके पर मौजूद अधिकारियों ने लड़की के पिता से बॉन्ड भी भरवाया कि वे अपनी बच्ची की शादी कानून द्वारा निर्धारित उम्र के बाद ही करेंगे.

इसे भी पढ़ें – 11 से 13 जून तक झारखंड में भारी बारिश की संभावना, बंगाल की खाड़ी में बन रहा है लो प्रेशर

बच्ची के पिता ने बड़कागांव थाना को बताया की बच्ची कि शादी उन्होने इचाक मे एक 22 वर्षीय युवक से तय की थी. उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी कि बच्ची के शादी की निर्धारित उम्र क्या है. प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिए आवेदन मे उन्होंने इस बात की जानकारी दी.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बच्ची की मां सौतेली है और वो इसका विवाह करवाना चाहती थी. बच्ची ने आदर्श मध्य विद्यालय, बड़कागांव से हाल मे ही आठवीं की पढ़ाई पूरी की है.

इस बाल विवाह को रोकवाने में प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रवेश कुमार साव, जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी संजय प्रसाद, यूनिसेफ़-एक्शन ऐड की स्मृति गुप्ता तथा चाइल्ड लाइन के रंजीत चौबे और मेघनाथ की महत्वपूर्ण भूमिका रही.

इसे भी पढ़ें – झारखंड में अनलॉक-2 का एलान, अब चार बजे तक खुलेंगी दुकानें, शनिवार शाम से सोमवार सुबह तक कंप्लीट लॉकडाउन

Related Articles

Back to top button