Crime NewsJharkhandRanchiTOP SLIDER

लखीमपुर हिंसा के विरोध में माओवादियों ने 17 अक्टूबर को झारखंड समेत चार राज्यों में बुलाया बंद

Ranchi: प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी ने पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में हुई हिंसा मामले पर बिहार, झारखंड, उत्तरी छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश में बंद की घोषणा की है. बंद को देखते हुए झारखण्ड पुलिस ने अलर्ट जारी कर दिया है. रेलवे और झारखंड पुलिस सतर्क हो गई है.

झारखण्ड पुलिस ने सभी जिलों के एसपी को सर्तकता के लिए दिशा-निर्देश जारी किया है. पुलिस मुख्यालय ने जिले के सभी एसपी को अलर्ट रहने और अति संवेदनशील क्षेत्रों में गश्ती बढ़ाने का निर्देश दिया है. निर्देश के बाद जिलों के एसपी ने सभी जवानो को चौकस रहने और अति संवेदनशील इलाकों में दिनभर गश्ती तेज करने का निर्देश दिया है.

इसे भी पढ़ें – एयरपोर्ट में लावारिस बैग मिलने से मचा हड़कंप

advt

भाकपा माओवादी के प्रवक्ता मानस ने प्रेस रिलीज जारी कर बंद का आह्वान किया है. भाकपा माओवादियों ने प्रेस विज्ञप्ति में लिखा है कि तीन कृषि कानूनों (1) किसान उत्पादन व्यापार और वाणिज्य संवर्द्धन और सुविधा विधेयक 2020, (2) आवश्यक वस्तु अधिनियम (संसाधन) बिल 2020 (3) किसान (सशक्तीकरण और संरक्षण) मूल्य आश्वासन और कृषि सेवा विधेयक समझौता 2020 के खिलाफ भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में जारी देशव्यापी किसान आन्दोलन पर मोदी सरकार द्वारा विभिन्न षड्यंत्रों के तहत जारी दमनात्मक मुहिमों की एक और ताज़ा बर्बर मिशाल लखीमपुर खीरी में सामने आयी. शांतिपूर्ण ढंग से धरना पर बैठे आंदोलनकारी किसानों की भीड़ पर तेज रफ्तार से लाकर कार चढ़ाकर कुचल देना जिससे घटना स्थल पर ही 4 आंदोलनकारियों की मौत हो गई और कई घायल हो गये. ऐसी हृदय विदारक कार्रवाई का अंजाम देना और दिलाना कितनी बड़ी क्रूर मानसिकता का परिचायक हो सकता है, जिसे सुनकर भी रोंगटे खड़े हो जाते हैं. स्वाभाविक है कि ऐसी घटना के बाद कोई भी संयत और शांत नहीं रह सकता और इसी के खिलाफ भाकपा माओवादियों ने 17 अक्टूबर को बिहार झारखंड उत्तरी छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश में बंद का आह्वान किया है.

इसे भी पढ़ें – बबलू मुंडा पर हमले में हमारा हाथ नहीं : टीपीसी

adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: