Crime NewsJharkhandLead NewsNEWSRanchi

माओवादी संगठन ने दी स्वतंत्रता दिवस के बहिष्कार की धमकी

Ranchi : भारत की कम्युनिस्ट पार्टी माओवादी संगठन ने आजादी के 75वें साल पर मनाये जा रहे आजादी के अमृत महोत्सव का बहिष्कार करने की अपील की है. 15 अगस्त को लेकर माओवादी संगठन के सेंट्रल कमेटी के प्रवक्ता अभय ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी किया है. जिसमें बताया गया है कि देश में आजादी का अमृत महोत्सव 15 अगस्त को मनाया जा रहा है. माओवादी संगठन उसका बहिष्कार करने का आह्वान करती है, इसे काला दिवस के रुप में मनाने के लिए कहा है.

हालांकि स्वतंत्रता दिवस पर नक्सली चुनौती से निपटने के लिए पुलिस मुख्यालय ने जिलों को अधिकतम सतर्कता बरतने को कहा है. अपने इलाके की हर गतिविधि पर निगाह रखने तथा लगातार गश्त करने का निर्देश दिया गया है. माओवादी संगठन का स्वतंत्रता दिवस का बहिष्कार जैसी चीजें नई नहीं हैं. नक्सली पहले भी इस तरह के बहिष्कार लगातार करते आए हैं लेकिन पुलिस की सतर्कता से कभी कोई बड़ी वारदात अंजाम नहीं दे सके. नक्सलियों का विरोध अमूमन काले झंडे फहराने तक ही सिमटा रहता है.

Sanjeevani

नक्सली संगठन संविधान को नहीं मानता

झारखंड में ऐसे कई घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र हैं जहां नक्सलियों की दहशत है. दरअसल, नक्सली 15 अगस्त को काला दिवस के रूप में मनाते हैं. इसकी वजह है कि नक्सली संगठन देश के संविधान को नहीं मानता है. नक्सली बंद के दौरान अंदरूनी क्षेत्रों में उत्पात मचाने के साथ जवानों को निशाना बनाने, पुलिस कैंपों पर हमला करने, सड़क मार्ग को अवरुद्ध करने के साथ ही रेल मार्ग को नुकसान पहुंचाने की फिराक में होते हैं. साथ ही 15 अगस्त के दिन अंदरूनी क्षेत्रों में काला झंडा भी नक्सलियों की तरफ से फहराया जाता है. ग्रामीणों पर राष्ट्रीय पर्वों का बहिष्कार करने के लिए दबाव बनाया जाता है. ऐसे कई गांव हैं जहां केवल नक्सलियों की पहुंच थी, लेकिन अब जवान धीरे-धीरे इन इलाकों में भी घुसकर नक्सलियों का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं. और ग्रामीणों का विश्वास भी जीत रहे हैं. राष्ट्रीय पर्व पर नक्सलियों के बंद को देखते हुए पुलिस हाई अलर्ट जारी किया गया है. नक्सली बंद के दौरान किसी भी तरह का कोई नुकसान ना पहुंचा पाए, इसके लिए जवानों को पूरी तरह से मुस्तैद रहने की सख्त हिदायत है.

इसे भी पढ़ें: रातू रोड एलिवेटेड कॉरिडोर निर्माण के पहले हटाये जायेंगे सड़क किनारे के दुकानदार

Related Articles

Back to top button