JharkhandJharkhand PoliticsRanchi

सरना धर्म कोड की मांग को लेकर सात को दिल्ली में जुटेंगे कई आदिवासी संगठन

Ranchi: राष्ट्रीय आदिवासी समाज सरना धर्म रक्षा अभियान के बैनर तले सरना धर्मकोड की मांग को लेकर सात दिसंबर को विभिन्न राज्यों के प्रतिनिधि दिल्ली के जंतर-मंतर में सत्याग्रह सह धरना देंगे. इसके माध्यम से सरना धर्म कोड की मांग को लेकर दस्तक दी जाएगी. इस दौरान राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, जनजातीय मामले के मंत्री को स्मार पत्र भी सौंपा जाएगा.

ram janam hospital

इसे भी पढ़ें : अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर धरने पर बैठे नवजोत सिंह सिद्धू, लगाई आरोपों की झड़ी

कार्यक्रम को लेकर झारखंड के विभिन्न आदिवासी संगठन दिल्ली कूच कर रहे हैं. राष्ट्रीय स्तर पर बनाए गए राष्ट्रीय आदिवासी समाज सरना धर्म रक्षा अभियान नाम का संगठन इसकी अगुआई कर रहा है. जुटान और प्रदर्शन का उद्देश्य सरना धर्म कोड के लिए केंद्र सरकार पर दबाव बनाना है. छह दिसंबर को सरना कोड के समर्थन में इन संगठनों की प्रतिनिधि सभा होगी और सात दिसंबर को जंतर-मंतर के समक्ष सत्याग्रह होगा. झारखंड के आदिवासी संगठन आदिवासी सेंगेल अभियान के बैनर तले प्रतिनिधि नेता दिल्ली गए धर्मगुरु बंधन तिग्गा, प्रो. करमा उरांव इस द‍िल्लीह दस्त्क का नेतृत्व कर रहे हैं.

झारखंड विधानसभा के विशेष सत्र में सरना धर्म कोड का प्रस्ताव पारित किए हुए एक वर्ष हो गया है. इस कारण अब आदिवासी संगठन के लोग केंद्र सरकार पर इसे लागू करने के लिए दबाव बनाने की रणनीति में जुटे हैं.

इसे भी पढ़ें : बिहार से 20 वर्षों बाद शहर पहुंचा बड़ा भाई, घर में घुसकर सभी को पीटा, मकान कब्जाया

Advt
Advt

Related Articles

Back to top button