न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अटल जी के नाम से जाने जायेंगे रांची के कई सार्वजनिक स्‍थल, श्रद्धांजलि के बाद की गयी घोषणा

अटलजी की श्रद्धांजलि सभा से दूर रहे डेढ़ दर्जन से अधिक पार्षद

466

Ranchi: रांची नगर निगम के अंतर्गत आने वाले कई सार्वजनिक स्‍थल भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम से जाने जायेंगे. यह घोषणा गुरुवार को रांची नगर निगम के सभागार में बोर्ड की बैठक के दौरान आयोजित श्रद्धांजलि सभा के दौरान की गयी. रांची नगर निगम के इस विशेष बोर्ड की बैठक में अटल जी के नाम शहर के सार्वजनिक स्‍थलों के नाम की घोषणा तो कर दी गयी, लेकिन हर समय सक्रिय रहने वाले डेढ़ दर्जन पार्षदों ने श्रद्धांजलि सभा की अनदेखी कर दी. ज‍बकि पूरे देश में एक सप्‍ताह का राष्‍ट्रीय शोक मनाया जा रहा है.

श्रद्धांजलि सभा में मेयर आशा लकड़ा ने दिवंगत प्रधानमंत्री के सम्मान में कई घोषणाएं की. घोषित की गयी घोषणाओं में प्रमुख है:

  • कचहरी रोड स्थित वेंडर मार्केट का नाम अटल वेंडर मार्केट रखा जायेगा.
  • एचईसी परिसर में बनने वाले स्मार्ट सिटी परिसर में अटल जी की प्रतिमा लगाई जाएगी
  • स्मार्ट सिटी तोरण द्वार का नाम अटल द्वार रखा जाएगा.

अटल जी की श्रद्धांजलि सभा में समय पर नहीं पहुंचे मेयर, डिप्टी मेयर, नगर आयुक्त

इसे भी पढ़ेंः हेहल अंचल में 113.38 एकड़ गैरमजरुआ जमीन का घोटला, अधिकारियों की मिली भगत से हुआ खेल

जहां एक और पूरा देश दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से शोक में डूबा हुआ है, राज्य में 7 दिन के राजकीय शोक की घोषणा की गई है. वहीं रांची नगर निगम सभागार में मेयर आशा लकड़ा द्वारा आयोजित श्रद्धांजलि शोक सभा में समय का ही ख्याल नहीं रखा गया. सुबह 11 बजे शुरू होने वाली इस शोक सभा में जहां मेयर, डिप्टी मेयर करीब आधे घंटे लेट (11:34 बजे) पहुंचे और अटल जी को श्रद्धांजलि दी.


नगर आयुक्त शांतनु अग्रहरि ने भी दिवंगत प्रधानमंत्री वाजपेयी को सभा के अंतिम समय में आकर श्रद्धांजलि दी. इसी शोक सभा में मेयर आशा लकड़ा ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी के नाम पर कई प्रस्ताव को लाकर उन्हें श्रद्धांजलि भी दी. इसमें सबसे महत्वपूर्ण कचहरी रोड स्थित वेंडर मार्केट का नाम अटल वेंडर मार्केट रखा जाना प्रमुख है.

इसे भी पढ़ेंः राजधानी में गैर आदिवासियों ने हथिया ली आदिवासियों की जमीन,  2261 मामले हैं लंबित

अटल जी को श्रद्धांजलि देने नहीं पहुंचे 53 में 20 पार्षद

दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की याद में गुरुवार को रांची नगर निगम सभागार में एक श्रद्धांजलि शोक सभा आयोजित की गई.  सभा का समय पूर्वाहन 11 बजे था, लेकिन समय पर न ही मेयर पहुंची न ही डिप्टी मेयर. सबसे आश्चर्य तो पार्षदों की उपस्थित को देखकर हुआ. हर महीने जहां नगर निगम की बोर्ड बैठक में जहां सभी 53 पार्षद अपनी मांगों को लेकर काफी हो-हल्ला करते हैं, वहीं अटल जी की श्रद्धांजलि  के लिए आयोजित शोक सभा में करीब 20 पार्षद नदारद रहे. गैरजाहिर रहने वाले प्रमुख पार्षदों में वार्ड 16 की नजिमा रजा, वार्ड 21 के पार्षद एहतेशाम, वार्ड 43 की पार्षद शशि सिंह, हुस्ना आरा (वार्ड 4),  मोनिका खलखो (वार्ड 6),  सुजाता कच्छप (वार्ड 7),  जेरमिन कुजूर (वार्ड 15),  नजिमा रजा (वार्ड 16), एहतेशाम (वार्ड 21), साजदा खातून (वार्ड 23), शशि सिंह (वार्ड 43), आदि प्रमुख हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: