Education & CareerKhas-KhabarNEWS

राज्य के तकनीकी शिक्षण संस्थानों में वर्षों से खाली कई पद, प्रभार भरोसे  कृषि विवि व सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज

Rahul Guru

Ranchi: राज्य के उच्च व तकनीकी शिक्षण संस्थान शिक्षकों की कमी से जुझ तो रहे ही है. साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों की संख्या भी नहीं के बराबर है.

वर्षों से खाली पड़े प्रशासनिक अधिकारियों के पदों को भरने के लिए कई बार कवायद की गयी, पर हर बार विज्ञापन निकलने और आवेदन जमा होने तक ही बात सिमट कर रह गयी. अब एक बार फिर रजिस्ट्रार, वीसी सहित कई पदों में नियुक्ति के लिए विज्ञापन निकाले गये हैं.

advt

इसे भी पढ़ेंःहेमंत सरकार के लिए नक्सलवाद हो सकती है बड़ी चुनौती, पिछली सरकार ने किया था खात्मे का दावा   

प्रभार भरोसे बिरसा कृषि विवि

राज्य का एकमात्र सरकारी कृषि विवि बिरसा कृषि विवि बीते कई सालों से शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक पदों पर नियुक्ति की बाट जोह रहा है. अब एक बार फिर यहां वीसी पद में नियुक्ति के लिए राज्यपाल सचिवालय की ओर से विज्ञापन जारी किया गया है.

विवि में शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक पदों में नियुक्ति की बात करें तो यहां कुल 465 पद सृजित हैं. इसमें से 180 पदों पर ही लोग कार्यरत हैं. जबकि 285 ऐसे पद हैं, जो या तो प्रभार के भरोसे चल रहे हैं या फिर वर्षों से खाली पड़े हैं.

प्रशासनिक कार्यों के लिए बिरसा कृषि विवि में 29 पद हैं. इन 29 पदों में 28 पद खाली या प्रभार के भरोसे चल रहे हैं. बिरसा कृषि विवि के अंतर्गत आने वाले कॉलेजों की बात करें तो एग्रीकल्चर कॉलेज में 56 पद हैं.

adv

जिसमें से 29 पद खाली हैं. इसी तरह वेटनरी कॉलेज में 129 पद हैं. इसमें से 100 पद खाली हैं.

इसे भी पढ़ेंःबोर्ड बैठक के नाम पर #JBVNL ने की खानापूर्ति, पांच मिनट में खत्म की गयी मीटिंग

चार विवि में प्रशासनिक पदों के लिए निकला विज्ञापन

राज्य के विवि के प्रशासनिक पदों में नियुक्ति के लिए अब विज्ञापन जारी कर नियुक्ति प्रक्रिया को शुरू की गयी है. जेपीएससी की ओर से रजिस्ट्रार, परीक्षा नियंत्रक, फिनांस ऑफिसर और डिप्टी रजिस्ट्रार पद पर नियुक्ति के लिए विज्ञापन जारी किया गया है.

इसमें झारखंड रक्षाशक्ति विवि, रांची विवि, विनोबा भावे विवि और नीलांबर पीतांबर विवि में पद खाली हैं. जारी विज्ञापन के अनुसार, चारों विवि में रजिस्ट्रार, डिप्टी रजिस्ट्रार व फिनांस ऑफिसर के एक-एक पद और परीक्षा नियंत्रक के 2 पद खाली हैं. अहम बात यह है कि रक्षा शक्ति विवि को अपने स्थापना काल से ही प्रभारी वीसी के भरोसे काम चलाना पड़ रहा है.

65 शिक्षक संभाल रहे 17 सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेजों की पढ़ाई

राज्य में पॉलिटेक्निक एजुकेशन की बात करें तो यहां 17 सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज में पढ़ाई केवल 65 शिक्षकों के भरोसे चल रही है. राज्य के सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेजों में सीटों की संख्या भी बढ़ा दी गयी है. वहीं इन्हीं 65 शिक्षकों के भरोसे दो शिफ्टों में इनकी पढ़ाई करायी जा रही है.

अभी राज्य के सभी पॉलिटेक्निक कॉलेजों में 31 हजार 569 छात्र पढ़ाई कर रहे हैं. प्रति शिक्षक छात्रों का अनुपात एक शिक्षक पर 485 छात्र हैं. राज्य में पॉलिटेक्निक कॉलेजों की पढ़ाई पार्ट टाइम लेक्चरर (पीटीएल) शिक्षकों के भरोसे चल रही है. नियुक्ति प्रक्रिया लगभग साल भर पहले शुरू भी की गयी तो उसे ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंःबोर्ड बैठक के नाम पर #JBVNL ने की खानापूर्ति, पांच मिनट में खत्म की गयी मीटिंग

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button