Crime NewsRanchi

साल 2019 में हुई कई आपराधिक घटनाएं, जानिए इस वर्ष के चर्चित मामले

Ranchi:  झारखंड में साल 2019 में कई आपराधिक घटनाएं हुई. अपराध जनवरी 2019 से लेकर दिसंबर 2019 तक लगातार बढ़ता ही रहा. इस साल नक्सलियों ने अपनी सक्रियता को बढ़ाते हुए एक के बाद एक घटनाओं का अंजाम देकर पुलिस को चुनौती देने का काम किया. इसके अलावा लूट, हत्या और दुष्कर्म जैसी घटनाओं में भी वृद्धि हुई.

इसके अलावा साइबर अपराध में भी बढ़ोतरी हुई. झारखंड के कोल परियोजनाओं में लेवी के लिए वर्चस्व की लड़ाई में गोलीबारी और हत्या का दौर जारी है. इन सभी आपराधिक घटनाओं के अलावा वर्ष 2019 में बड़े सड़क हादसे और घटनाएं सामने आयीं.

इसे भी पढ़ें – #HemantSoren ने झारखंड के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में ली शपथ; रामेश्वर उरांव, आलमगीर व भोक्ता ने ली मंत्री पद की शपथ

 

जानिए झारखंड के चर्चित अपराधिक घटना और हादसे

 

एटीएम से 42 लाख की लूट

रामगढ़ जिला में एटीएम से 42 लाख रुपये लूट का मामला सामने आया था. गौरतलब है कि 5 मई की देर रात मांडू स्थित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) का एटीएम कुछ लोग उखाड़कर ले गये. एटीएम तोड़कर उसमें रखे 42 लाख रुपये निकाल लिये.

पैसे निकालने के बाद एटीएम को बेंगाबाग गांव के पास फेंक दिया था. सुबह कुज्जू ओपी क्षेत्र में बाइपास रोड से करीब 200 मीटर दूर एक गड्ढे में कुछ लोगों ने एक टूटा एटीएम देखा. स्थानीय थाना को इसकी सूचना दी गयी.

सूचना मिलने पर कुज्जू ओपी की पुलिस वहां पहुंची थी. इस मामले में अब तक पुलिस के हाथ खाली हैं और अपराधियों का कोई सुराग भी पुलिस को अब तक नहीं मिल पाया है.

नक्सली हमले में शहीद हुए पांच जवान

सरायकेला जिले के चांडिल के पास तिरुलडीह थाना क्षेत्र के कुकडु साप्ताहिक हाट में 14 जून शाम 5.45 बजे नक्सलियों ने पुलिस की गश्ती दल पर हमला कर दिया था. इसमें दो एएसआई सहित पांच जवान शहीद हो गए थे.

नक्सलियों ने पहले जवानों पर भुजाली से हमला किया, फिर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी थी. नक्सली पुलिस के हथियार लूटकर भागे थे. हालांकि घटना के बाद पुलिस ने इस वारदात में शामिल कई नक्सलियों को गिरफ्तार किया था.

झारखंड के रास्ते हो रहे हवाला कारोबार का खुलासा

बिहार से झारखंड के रास्ते कोलकाता तक हवाला के पैसे का खेल लंबे समय से चल रहा था. लेकिन इसकी भनक तक जांच एजेंसियों को नहीं लग रही थी. 27 अगस्त को भागलपुर से कोलकाता जा रही पागल बाबा बस में दुमका के बागनल के पास लूट हुई थी.

इस लूटकांड में गिरफ्तार अपराधियों से जब पुलिस ने पूछताछ की, तो मामले का खुलासा हुआ. बस लूटकांड की जांच के दौरान बिहार के तीन और हंसडीहा (दुमका) से एक अपराधी को गिरफ्तार किया गया. उनके पास से लूट के 35.50 लाख रुपये, दो पिस्टल, तीन कारतूस और लूट में इस्तेमाल तीन गाड़ियां बरामद की गयी थीं.

इसे भी पढ़ें – #Petroleum_Minister धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, भारत में केवल वही रह सकते हैं जो भारत माता की जय बोलेंगे

एक ही परिवार के 4 लोगों ने की आत्महत्या

12 अगस्त को झारखंड के सुदूरवर्ती जिला गढ़वा में एक ही परिवार के चार लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गयी थी. बताया जाता है कि कैंसर से पीड़ित शिव कुमार बैठा ने अपनी पत्नी और दो बेटियों की हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली थी. घटना धुरकी थाना अंतर्गत रक्सी गांव की थी.

गांव के हरठवा टोला में रहने वाले शिव कुमार के बारे में बताया जाता है कि वह बीमारी की वजह से मानसिक रूप से परेशान रहता था. इलाज के लिए उसके पास पर्याप्त पैसे नहीं थे. इसलिए पत्नी से बार-बार झगड़ा होता रहता था. तनाव में ही उसने रविवार की रात पत्नी बबीता, दो बेटियों तान्या और श्रेया की हत्या करने के बाद फांसी लगा ली थी.

एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या

27 नवंबर को कोडरमा जिले के नवलशाही थाना क्षेत्र अन्तर्गत ग्राम मसमोहना में एक व्यक्ति ने अपने परिवार के पांच सदस्यों की गला काटकर हत्या कर दी थी. पुलिस मौके पर पहुंचकर इस निर्मम वारदात की छानबीन में जुटी थी.

रांची में भीषण सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत

2 दिसंबर राजधानी रांची के ओरमांझी में एक सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत हो गयी थी. सुबह करीब 11 बजे यह बड़ा हादसा एक बस और जीप के आमने-सामने की टक्‍कर के चलते हुआ था. घायलों को इलाज के लिए नजदीकी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था. इस हादसे में जीप पर सवार पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी. जबकि छह लोग बुरी तरह घायल हो गए थे.

बड़े साइबर गिरोह का खुलासा

21 दिसंबर को झारखंड में अब तक का सबसे शातिर साइबर अपराधी गिरोह झरिया के ऐना इस्लामपुर में पकड़ा गया था. यह गिरोह कॉल सेंटर की आड़ में विदेशियों, खासकर अमेरिकी नागरिकों को निशाना बनाता था. हर माह इंडियन करेंसी में करीब 25 लाख रुपये कमाता था. विदेशी नागरिकों से यह ऑनलाइन डॉलर में ठगी करता था. उस डॉलर को कोई और व्यक्ति इंडियन करेंसी में बदल कर इन अपराधियों को नकद पैसा मुहैया कराता था. यह गोरखधंधा करीब डेढ़ साल से चल रहा था.

दुष्कर्म के दोषी को फांसी की सजा

21 दिसंबर को रांची की निर्भया को इंसाफ मिला था. कोर्ट ने निर्भया के दोषी राहुल राज को सजा-ए-मौत दी है. रांची के बूटी बस्ती में 15 दिसंबर 2016 की देर रात बीटेक की छात्रा की दुष्कर्म के बाद निर्मम हत्या कर दी गई थी.

सारंडा में सामूहिक नरसंहार

पश्चिमी सिंहभूम जिले के सारंडा में एक ही परिवार के 4 लोगों की निर्मम हत्या कर दी गयी. डायन-बिसाही के शक में इस वारदात को उस वक्त अंजाम दिया गया, जब घर में सभी सोये हुए थे. हत्यारों ने पति-पत्नी और दो बच्चों को मौत के घाट उतार दिया. पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था.

इसे भी पढ़ें – गीतकार गुलजार का #CAA_NRC पर तंज, कहा, दिल्लीवालों से डरने की जरूरत है, पता नहीं कौन सा नया कानून ले आयें

लॉ की छात्रा के साथ गैंगरेप

26 नवंबर को रांची में एक नामी यूनिवर्सिटी की छात्रा के साथ गैंगरेप की वारदात ने पूरी राजधानी में सनसनी फैला दी थी. हालांकि इस शर्मनाक वारदात को अंजाम देने वाले सभी 12 आरोपियों को पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर लिया था.

लातेहार नक्सली हमले में 4 जवान शहीद

22 नवंबर की रात लातेहार में नक्सली हमले में एएसआई समेत 4 पुलिस जवान शहीद हो गए थे. हाइवे पर पुलिस की पेट्रोलिंग पार्टी पर नक्सलियों ने अचानक हमला कर दिया था. विधानसभा चुनाव से ठीक एक सप्ताह पहले इस घटना को अंजाम दिया गया था.

डायन के शक में 4 लोगों की हत्या

गुमला जिले के सिसई में 20 जुलाई को डायन बताकर 4 लोगों की पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी थी. हालांकि इस मामले में पुलिस ने तत्परता दिखाई, घटना में शामिल सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था.

रांची में दो सगे भाई की हत्या

6 मार्च को रांची के अशोक नगर रोड नंबर-एक स्थित एक निजी न्यूज चैनल के ऑफिस में दो लोगों की शव मिला था. दोनों सगे भाई थे. पैसे के लेन-देन में दोनों अग्रवाल बंधुओं की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी.

वारदात के मास्‍टरमाइंड लोकेश सहित तीन आरोपियों के घर की कुर्की जब्ती हुई थी. जबकि गोली चलानेवाले लोकेश के बॉडीगार्ड ने सरेंडर किया था. जबकि मुख्य आरोपी अभी भी फरार हैं.

एक करोड़ के इनामी नक्सली का सरेंडर

11 फरवरी को झारखंड के बूढ़ा पहाड़ में सक्रिय 1 करोड़ के इनामी नक्सली सुधाकरण ने पत्नी नीलिमा के साथ तेलंगाना में सरेंडर किया था. उसकी पत्नी पर भी 25 लाख का इनाम घोषित था. माओवादी अरविंदजी की मौत के बाद झारखंड की कमान सुधाकरण ने संभाल रखी थी.

तबरेज की मॉब लिंचिंग

17 जून को सरायकेला में तबरेज अंसारी नाम के शख्स को ग्रामीणों ने चोरी के आरोप में पकड़ा था और जमकर पिटाई की थी. 4 दिन बाद सदर अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी.

इसे भी पढ़ें – रामगढ़ झामुमो अध्यक्ष विनोद किस्कू ने रोका MPL का कोयला लदा ट्रक, मांगी 20 रूपये प्रति टन रंगदारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button