JharkhandMain SliderRanchi

लोकमंथन कार्यक्रम में सीपी सिंह की कुर्सी को लेकर होता रहा मंथन, बिफर कर खुद कुर्सी लाकर बैठे

Ranchi : राज्य सरकार के कला, संस्कृति एवं खेलकूद विभाग के सहयोग से आयोजित साहित्यिक और बौद्धिक समागम लोकमंथन 2018 का गुरुवार को खेलगांव में उद्घाटन किया गया. उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू थे. कार्यक्रम का अयोजन शानदार और सुनियोजित था. सभी मंत्री, विधायक और डिग्निटरीज के बैठने के पुख्ता इंतजाम किये गये थे. उम्मीद के अनुरूप सभी तय समय पर कार्यक्रम में पहुंच गये. सभी अपनी निर्धारित सीट पर बैठ गये. इसी बीच पहुंचे रांची के विधायक सह नगर विकास मंत्री सीपी सिंह. उन्होंने पहले तो अपने लिए निर्धारित सीट को खोजा, पर मिली नहीं. मिलती भी कैसे, उनके लिए सीट निर्धारित थी ही नहीं. इसी बीच राज्य के डीजीपी और पर्यटन सचिव की नजर उनपर पड़ी, पर्यटन सचिव मनीष रंजन ने उन्हें सीट देकर बैठने का आग्रह किया, पर जैसे ही सीपी सिंह बैठने गये, सीट के पीछे सेक्रेटरी लिखा देख वह फिर बिफर गये. डीजीपी और पर्यटन सचिव, दोनों ने उन्हें मनाने का काफी प्रयास किया, लेकिन मंत्रीजी का गुस्सा कम नहीं हुआ. उन्होंने गुस्से से लाल होकर बुदबुदाते हुए अपने लिए बगल में खाली पड़ी एक लाल कुर्सी को उठाया और पहली पंक्ति में ही किनारे बैठ गये.

इसे भी पढ़ें- स्वच्छता कोई राजनीतिक कार्यक्रम नहीं, बल्कि एक जन आंदोलन है – वेंकैया नायडू

पर्यटन सचिव अलग होकर बैठ गये, डीजीपी भी हो गये किनारे

Catalyst IAS
ram janam hospital

मनाने के बाद भी जब मंत्रीजी नहीं माने, तो पर्यटन सचिव मनीष रंजन और डीजीपी डीके पांडेय वहां से अलग हो गये. मनीष रंजन ने अपने लिए निर्धारित सीट पर वापस जाकर बैठना उचित नहीं समझा. वहीं अलग से कुर्सी लेकर बैठ गये. इसके बाद राज्य पुलिस के मुखिया डीके पांडेय ने भी वहां से किनारे हो लेना ही उचित समझा.

The Royal’s
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें- भाजपा की कार्यशैली से भाजपा कार्यकर्ता ही त्रस्त : इरफान अंसारी

जहां सीपी सिंह को बैठने का किया गया था आग्रह, वहां बाद में बैठ गये रामकुमार पाहन

अपने लिए जिस निर्धारित सीट को छोड़कर पर्यटन सचिव मनीष रंजन मंत्री सीपी सिंह से उस पर बैठने का आग्रह करते रहे, वहां बाद में विधायक रामकुमार पाहन आकर बैठ गये. विधायक रामकुमार पाहन भी अपने लिए सीट खोजते हुए वहां पहुंचे थे और जब उन्हें भी अपने लिए सीट नहीं मिली, तो वह मौका देखते हुए मनीष रंजन द्वारा खाली की गयी उस सीट पर जाकर बैठ गये.

लोकमंथन कार्यक्रम में सीपी सिंह की कुर्सी को लेकर होता रहा मंथन, बिफर कर खुद कुर्सी लाकर बैठे
पर्यटन सचिव की कुर्सी पर बैठे विधायक रामकुमार पाहन.

Related Articles

Back to top button