National

#HomeMinistry में आंतरिक सुरक्षा पर मंथन, अमित शाह, एनएसए डोभाल, कैबिनेट सेक्रेटरी राजीव गौबा ने जम्मू कश्मीर पर चर्चा की

NewDelhi : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सोमवार को जम्मू कश्मीर में सुरक्षा हालातों की समीक्षा की. केंद्रीय गृह मंत्रालय की यह उच्च स्तरीय बैठक दो घंटे तक चली. खबरों के अनुसार समीक्षा बैठक में  राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल और कैबिनेट सेक्रेटरी राजीव गौबा शामिल थे. साथ ही मंत्रालय के कई बड़े अधिकारी  भी बैठक में शामिल थे.  अमित शाह को बैठक के दौरान जम्मू कश्मीर में सुरक्षा हालातों की विस्तृत जानकारी दी गयी.  इस क्रम में अधिकारियों ने अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर सुरक्षा की स्थिति के बारे में जानकारी दी.

इसे भी पढ़ें-  फारूक अब्दुल्ला पीएसए के तहत हिरासत में, SC में 8 याचिकाओं पर सुनवाई, #CJI ने कहा, जरूरत पड़ी तो वे खुद श्रीनगर जायेंगे

पीओके में आतंकी ठिकानों से 230 आतंकी भारत पर हमले की फिराक में

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाये जाने के बाद वहां के हालात और शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए क्या-क्या कदम उठाये जा रहे हैं, इस बारे में अमित शाह को बताया गया. कुछ दिन पूर्व ऐसी रिपोर्ट आयी थी कि पीओके में आतंकी ठिकानों से 230 आतंकी भारत पर हमले की फिराक में हैं. शाह की बैठक में इन खतरों पर विस्तृत चर्चा की गयी.  15वीं कोर के जनरल कमांडिंग अफसर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने अभी हाल में बताया था कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पार से देश के अंदर घुसपैठ की नाकाम कोशिश की गयी थी. गृह मंत्री की बैठक में इस पर भी चर्चा की गयी.

पीओके में लॉन्चपैड फुल हैं

केजेएस ढिल्लों ने बताया कि पीओके में लॉन्चपैड फुल हैं. एलईटी, जेईएम, हिज्बुल और अल बद्र के तंजीम पाकिस्तानी पोस्ट पर आते रहते हैं.  हर दिन फायरिंग की घटनाएं सामने आ रही हैं. पुंछ, राजौरी और जम्मू सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश की जा रही है. उधर अनुच्छेद 370 समाप्त होने के 43 साल बाद कश्मीर घाटी में जनजीवन पूरी तरह सामान्य नहीं हो पाया है. यहां की ज्यादातर दुकानें बंद हैं और सरकारी वाहन सड़कों से नदारद हैं.

पाकिस्तान नियंत्रण रेखा पर लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है. बैठक में इन मुद्दों पर भी चर्चा की गयी है.  पाकिस्तान के साथ बिगड़ते और तनावपूर्ण रिश्तों के बीच दिल्ली में गृह मंत्रालय की यह उच्च स्तरीय बैठक काफी महत्वपूर्ण मानी जा रही है.

पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने 8 अक्टूबर को रेवाड़ी रेलवे स्टेशन और उसके पीछे स्थित मंदिर को उड़ाने की धमकी दी है. पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर का धमकी पत्र मिलने की पुष्टि की है. बता दें कि बीते गुरुवार को ही जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों को जम्मू क्षेत्र के कठुआ से गिरफ्तार किया था. पुलिस ने उनके पास से 6 एके असाल्ट राइफल समेत बड़ी संख्या में हथियार व गोला-बारूद भी जब्त किया था.

इसे भी पढ़ें- कांग्रेस का आरोप, #Article 370 जैसे संवेदनशील विषयों को खिसका रही  है न्यायपालिका

Telegram
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close