National

मणिशंकर ने पीएम मोदी पर दिये ‘नीच इंसान’ वाले बयान को ठहराया सही, कांग्रेस की बढ़ी परेशानी

New Delhi: लोकसभा चुनाव में काफी लम्बे समय से शांत बैठे कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने अपनी चुप्पी तोड़ी है. लेकिन उनका बयान कांग्रेस के लिए परेशानी का सबब बन सकता है.

देखा जाये तो 84 दंगे को लेकर पित्रोदा के बयान पर हुई फजीहत से पार्टी उबरी भी नहीं है. ऐसे में मणिशंकर ने पीएम मोदी ‘नीच’ बताने वाले अपने पूर्व बयान को सही ठहरा कर मुसीबत खड़ी कर दी है.

इसे भी पढ़ेंःचुनाव में डूब रही पीएम मोदी की नैया, RSS ने भी किया किनाराः मायावती

Catalyst IAS
ram janam hospital

‘क्या मेरी भविष्यवाणी सही नहीं थी’

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने दो साल पहले पीएम मोदी को नीच बताने वाले अपने बयान को सही ठहरा कर एक बार फिर गहमागहमी बढ़ा दी है.

‘द प्रिंट’ में छपे अपने लेख में मणिशंकर ने राजीव गांधी और बालाकोट एयर स्ट्राइक पर पीएम मोदी के बयान का हवाला देते हुए कहा है कि क्या प्रधानमंत्री मोदी जीतेंगे. 23 मई को देश की जनता उन्हें सत्ता से बाहर कर देगी. क्या आपको याद है कि मैंने 7 दिसंबर 2017 को क्या कहा था, क्या मेरी भविष्यवाणी सही नहीं थी.

ज्ञात हो कि 2017 गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘नीच इंसान’ कहा था. जिसे लेकर खासा विवाद हुआ था.

वहीं कांग्रेस ने मणिशंकर के बयान से किनारा करते हुए उन्हें निलंबित कर दिया. बाद में उन्हें अपने इस बयान पर माफी भी मांगनी पड़ी थी.

इसे भी पढ़ेंःमीडिया रिपोर्ट में दावाः घटिया गोला-बारुद से बढ़ते हादसे को लेकर सेना चिंतित, सरकार को लिखी चिट्ठी

‘गंदी जुबान वाले प्रधानमंत्री हैं मोदी’

कांग्रेस नेता ने अपने लेख में पीएम मोदी पर अपनी शिक्षा को लेकर झूठ बोलने का आरोप भी लगाया है. इतना ही नहीं, उन्होंने पीएम मोदी को देशद्रोही और गंदी जुबान वाले प्रधानमंत्री तक कहा. अब फिर से मणिशंकर के इस तरह के बयान से कांग्रेस की मुसीबत बढ़ सकती है.

पित्रोदा के बयान की राहुल सार्वजनिक निंदा कर चुके हैं. ऐसे में देखने वाली बात होगी कि मणिशंकर के इस बयान से कांग्रेस कैसे निकलती है. वहीं चुनावी मौसम में बीजेपी इस मौक़े को भुनाने की भरपूर कोशिश करेगी.

इसे भी पढ़ेंःPM मोदी 15 मई को देवघर में करेंगे जनसभा, पांच IPS व 37 DSP संभालेंगे सुरक्षा की कमान

Related Articles

Back to top button