BiharBihar UpdatesLead News

मंदार मेला:  आदिवासी वैष्णवी मत के सफा धर्मावलंबियों ने 712 फीट ऊंचे मंदार पर्वत का किया आरोहण

Banka: जिले के  बौंसी स्थित पौराणिक मंदार पर्वत की तलहटी में मकर संक्रांति के अवसर पर आयोजित होने वाले मंदार मेला की परंपरा काफी पुरानी है. इस मेले में देश के कोने-कोने से आदिवासी वैष्णवी मत के सफा धर्मावलंबी पहुंचे हैं. सफा धर्मावलंबियों ने पापहरनी सरोवर में स्नान और पूजा-अर्चना के साथ 712 फीट ऊंचे मंदार पर्वत का आरोहण किया. कोरोना के बढ़ते प्रभाव की वजह से श्रद्धालुओं की संख्या में अन्य वर्षों की तुलना में कमी है, मगर में श्रद्धा में किसी तरह की कमी नहीं है.

 

advt

हालांकि, कोरोना का प्रकोप के बावजूद बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे हैं. आस्था के आगे कोरोना गाइडलाइन के अनुपालन में जहां तहां अवहेलना ही हो रही है. आदिवासी धर्मावलंबियों का ग्राउंड व फर्स्ट फ्लोर वाले सरकारी रेन बसेरा खचाखच भरा हुआ है. जत्थे में आए आदिवासियों ने कई स्थानों पर खुले आसमान के नीचे अपना डेरा जमा लिया है.

 

पापहरणी सरोवर के बीच अष्ट कमल लक्ष्मी नारायण मंदिर को आगामी 21 जनवरी तक के लिए सरकारी निर्देश पर बंद कर दिया गया है. बावजूद आदिवासी समुदाय के लोग बाहर चौखट रक ही पूजा अर्चना कर रहे हैं. मंदार पर्वत मध्य व शिखर पर सीता कुंड, शंख कुंड, नरसिंह भगवान गुफा मंदिर, विष्णु चरण पद और जैनियों के बारहवें तीर्थंकर भगवान वासुपूज्य के भव्य मंदिर हैं. पर्वत पर भी  मंदिरों को बंद कर दिया गया है. बावजूद सैलानियों के आने और पर्वत का पैदल आरोहण तथा रोपवे के जरिए यात्रा कर रहे हैं.

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: