National

ममता सरकार का खुफिया एजेंसियों को निर्देश, जय श्री राम के नारे लगनेवाले इलाकों का पता लगायें !

Kolkata : पश्चिम बंगाल की खुफिया एजेंसियां उन स्थानों का पता लगायेंगी जहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को देखकर जय श्रीराम के नारे लग सकते हैं.  टेलीग्राफ की खबर के अनुसार  ममता बनर्जी का मानना है कि जय श्रीराम के नारे उकसावे के लिए लगाये जा रहे हैं. भाजपा इसे ममता सरकार की दमनकारी नीतियों के प्रति अवज्ञा के रूप में देख रही है, खुफिया एजेंसियों को ऐसे क्षेत्रों की पहचान के साथ ही ममता बनर्जी के उस क्षेत्र में मेन रूट के साथ ही वैकल्पिक रूट को चिह्नित करने की बात कही गयी है.  सूत्रों ने बताया कि यह सुनने में भले ही असामान्य लगे लेकिन यह निर्देश मिला है.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ें – भारत का स्पेशल ट्रेड स्टेटस वापस लेने का अमेरिकी सरकार का फैसला खतरे की घंटी : कांग्रेस

जय श्रीराम बोलना गैरकानूनी नहीं है

हालांकि यह साफ नहीं है कि कैसे जमीन पर इस निर्देश का पालन किया जायेगा.  हालांकि, कुछ सूत्रों का कहना है कि ममता की यात्रा वाले मार्ग को बिल्कुल खाली कराया जा सकता है.  सामान्य रूप से उस तरह के मार्ग को पूरी तरह से बिल्कुल खाली कराया जाता है जहां नेताओं के खिलाफ काले झंडे दिखाने या विरोध प्रदर्शन की आशंका होती है.

कहा जा रहा है कि जय श्री राम का नारा लगाने वालों की पहचान करना आसान नहीं होगा.  साथ ही जय श्रीराम बोलना गैरकानूनी भी नहीं है. बता दें कि  मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जय श्रीराम के नारे बाद एक से अधिक बार सार्वजनिक रूप से गुस्से का इजहार कर चुकी हैं. बता दें कि भाजपा की तरफ से इसे चुनावी मुद्दा भी बनाया गया था. इस नारे पर ममता के गुस्से को हिंदू विरोधी साबित करने की कोशिश की गयी थी.

Samford
इसे भी पढ़ें – इस्लामाबाद  : भारतीय उच्चायोग की इफ्तार पार्टी में आये मेहमानों के साथ पाक अधिकारियों  की बदसलूकी  

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: