न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ममता सरकार का खुफिया एजेंसियों को निर्देश, जय श्री राम के नारे लगनेवाले इलाकों का पता लगायें !

पश्चिम बंगाल की खुफिया एजेंसियां उन स्थानों का पता लगायेंगी जहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को देखकर जय श्रीराम के नारे लग सकते हैं.

180

Kolkata : पश्चिम बंगाल की खुफिया एजेंसियां उन स्थानों का पता लगायेंगी जहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को देखकर जय श्रीराम के नारे लग सकते हैं.  टेलीग्राफ की खबर के अनुसार  ममता बनर्जी का मानना है कि जय श्रीराम के नारे उकसावे के लिए लगाये जा रहे हैं. भाजपा इसे ममता सरकार की दमनकारी नीतियों के प्रति अवज्ञा के रूप में देख रही है, खुफिया एजेंसियों को ऐसे क्षेत्रों की पहचान के साथ ही ममता बनर्जी के उस क्षेत्र में मेन रूट के साथ ही वैकल्पिक रूट को चिह्नित करने की बात कही गयी है.  सूत्रों ने बताया कि यह सुनने में भले ही असामान्य लगे लेकिन यह निर्देश मिला है.

इसे भी पढ़ें – भारत का स्पेशल ट्रेड स्टेटस वापस लेने का अमेरिकी सरकार का फैसला खतरे की घंटी : कांग्रेस

जय श्रीराम बोलना गैरकानूनी नहीं है

Related Posts

#PMModi ने कहा, सुप्रीम कोर्ट का सम्मान करना जरूरी, बयान बहादुर राम मंदिर को लेकर अनाप-शनाप बयान न दें…  

पीएम मोदी ने कहा कि मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है.  कोर्ट में सभी लोग अपनी बात रख रहे हैं.  ऐसे में  बयान बहादुर कहां से आ गये?

हालांकि यह साफ नहीं है कि कैसे जमीन पर इस निर्देश का पालन किया जायेगा.  हालांकि, कुछ सूत्रों का कहना है कि ममता की यात्रा वाले मार्ग को बिल्कुल खाली कराया जा सकता है.  सामान्य रूप से उस तरह के मार्ग को पूरी तरह से बिल्कुल खाली कराया जाता है जहां नेताओं के खिलाफ काले झंडे दिखाने या विरोध प्रदर्शन की आशंका होती है.

कहा जा रहा है कि जय श्री राम का नारा लगाने वालों की पहचान करना आसान नहीं होगा.  साथ ही जय श्रीराम बोलना गैरकानूनी भी नहीं है. बता दें कि  मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जय श्रीराम के नारे बाद एक से अधिक बार सार्वजनिक रूप से गुस्से का इजहार कर चुकी हैं. बता दें कि भाजपा की तरफ से इसे चुनावी मुद्दा भी बनाया गया था. इस नारे पर ममता के गुस्से को हिंदू विरोधी साबित करने की कोशिश की गयी थी.

इसे भी पढ़ें – इस्लामाबाद  : भारतीय उच्चायोग की इफ्तार पार्टी में आये मेहमानों के साथ पाक अधिकारियों  की बदसलूकी  

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: