न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ममता बनर्जी ने कहा, ईसाई होने की वजह से मिशनरीज ऑफ चैरिटी की सिस्टर्स को परेशान कर रही बीजेपी सरकार

मिशनरीज ऑफ चैरिटी को किया जा रहा है टारगेट- कैथोलिक बिशप कान्फ्रेंस

714

Ranchi/New Delhi: झारखंड में मिशनरीज ऑफ चैरिटी द्वारा बच्चा बेचने का मामले पर अब राजनीति शुरु हो गई है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट कर कहा है कि कमज़ोर तबकों की सेवा, मदर टेरेसा का धर्म रहा है. उन्होने लिखा है कि मिशनरीज ऑफ चैरिटी (MoC) की स्थापना खुद मदर टेरेसा ने की थी और लेकिन अब इन्हें भी नहीं बख्शा जा रहा है. द्वेषपूर्ण और पूर्वाग्रह के कारण इनका नाम बदनाम किया जा रहा है. ममता ने कहा कि मिशनरीज ऑफ चैरिटी को परेशान ना किया जाए और गरीबों के हक में उन्हें काम करने दिया जाए. अब सिस्टर्स को निशाना बनाया जा रहा है.

कैथोलिक चर्च को बदनाम करने की साजिश- कैथोलिक बिशप कान्फ्रेंस

रांची के बिशप ऑफ आर्कडियोसेस ने इसे ‘कैथोलिक चर्च को बदनाम करने की साजिश’ बताया है. इस सिलसिले में सीबीआई जांच के आग्रह को लेकर कैथोलिक बिशप कान्फ्रेंस ऑफ इंडिया ने नाराजगी जताई है. संस्था के जेनरल सेक्रेटरी का कहना है कि ईसाई समुदाय को जानबूझकर परेशान करने की कोशिश हो रही है.
थियोडोर मासकैरेंहास ने कहा कि मिशनरीज ऑफ चैरिटी साल 1959 से सूबे में लोगों की सेवा कर रही है और आज बच्चा बेचकर पैसे लेने का आरोप लगाया जा रहा है. उन्होने कहा कि जानबूझकर इस मुद्दे का मीडिया ट्रायल करवाया जा रहा है. कैथोलिक चर्च को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है. सब जानते हैं कि इसके पीछे कौन है.

इसे भी पढ़ें-‘आदिवासी समाज को तय करना होगा कौन उनका हित चाहता है, कौन नहीं’

‘पहले देते हैं प्रशंसा पत्र, दस दिन बाद होती है छापेमारी’

कैथोलिक बिशप कान्फ्रेंस का दावा है कि दस दिन पहले बाल कल्याण समिति के द्वारा निर्मल हृदय को काम के लिए प्रशंसा पत्र सौंपा गया. प्रशंसा पत्र सौंपने के ठीक दस दिन बाद छापेमारी की गई. ये सब पहले से तय प्लान के मुताबिक था. थियोडोर मासकैरेंहास ने कहा कि  खूंटी गैंगपेप के बाद चर्च को बदनाम करने का जो सिलसिला शुरु हुआ, वो निर्मल हृदय तक जारी है. हो सकता है ये प्रोपोगेंडा आने वाले वक्त में कोई और शक्ल अख्तियार करे. लेकिन एक बात तय है कि ये सबकुछ चर्च और ईसाई समुदाय को टारगेट करने के लिए किया जा रहा है.

बीजेपी कर रही बदले की राजनीति-ममता बनर्जी
बीजेपी कर रही बदले की राजनीति-ममता बनर्जी

‘मदर टेरेसा और उनकी सिस्टर्स को बदनाम करना सही नहीं’

कैथोलिक बिशप कान्फ्रेंस का कहना है कि वे बस इतना चाहते हैं कि उनको न्याय मिले. किसी एजेंडे के तहत बदनाम करने की मुहिम न चलाई जाय. सरकार अगर सीबीआई जांच करवाना चाहती है तो करवाये, लेकिन जांच के नाम पर मीडिया में रोज नये-नये खुलासे की स्टोरी प्लांट करना गलत है. उन्होंने कहा कि जब मामला रांची के निर्मल हृदय से जुड़ा है, तो फिर गुमला, गिरिडीह और जमशेदपुर में छानबीन क्यों हो रही है?

इसे भी पढ़ेंः गठबंधन राजनीति और सत्‍ता पक्ष के तर्क

बीजेपी कर रही बदले की राजनीति- ममता

ममता बनर्जी ने सिर्फ मिशनरीज ऑफ चैरिटी के मसले पर ही नहीं बल्कि योगेंद्र यादव के मामले पर भी  केन्द्र की मोदी सरकार को निशाने पर लिया है. उन्होंने लिखा कि 2019 के लोकसभा चुनाव आ रहे हैं, इससे पहले अब बीजेपी एजेंसियों का दुरुपयोग कर विपक्ष की आवाज़ को दबाने की कोशिश कर रही है और खुले तौर पर बदले की राजनीति कर रही है. मैं योगेंद्र यादव के बहनोई के अस्पताल में पड़ी आईटी की रेड की निंदा करती हूं.

आतंक राज कायम करने वालों को नैतिक सलाह देना शोभा नहीं देता-भाजपा

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने ममता बनर्जी के ट्वीट पर भाजपा की ओर से जवाब देते हुए कहा की ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में अराजकता और आतंक फैला रखा है. उनके कार्यकाल में दर्जनों भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है. तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता पूरे बंगाल में कानून की परवाह ना करते हुए समानांतर सरकार चला रहे हैं. प्रतुल शाहदेव ने कहा कि रघुवर सरकार में गलत कार्य करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा. मिशनरीज ऑफ चैरिटी के द्वारा नवजात शिशुओं को बेचने का जो कारोबार चल रहा था, उसके षड्यंत्रकारियों की पहचान हो रही है. सभी दोषियों को सजा मिलेगी. समाज सेवा की आड़ में गैर कानूनी कार्य करने की छूट झारखंड में नहीं है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: