West Bengal

एनआरसी के खिलाफ सड़कों पर उतरेगी तृणमूल, ममता करेंगी नेतृत्व

Kolkata : असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) लागू कर 19 लाख लोगों को भारतीय नागरिकता से बाहर किये जाने के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस सड़क पर उतरकर आंदोलन करेगी.

सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसकी घोषणा की है. प्रदेश तृणमूल मुख्यालय में पार्टी के सभी जिलाध्यक्षों के साथ बैठक करते हुए मुख्यमंत्री ने इस आंदोलन की रूपरेखा तैयार की है.

इसे भी पढ़ें : हेमंत के साथ मजबूती से खड़े हैं सभी विधायक, बीजेपी में जाने का कोई सवाल नहीं : जेएमएम

12 मार्च को उत्तर कोलकाता में रैली

बताया गया है कि आगामी 12 सितंबर को उत्तर कोलकाता में विरोध रैली निकाली जायेगी, जिसका नेतृत्व मुख्यमंत्री करेंगी. उसके पहले आगामी सात और आठ सितंबर को पार्टी की ओर से राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन होगा.

राज्य के प्रत्येक ब्लॉक में पार्टी कार्यकर्ता रैली निकालकर एनआरसी के खिलाफ आंदोलन करेंगे. उसके बाद 12 सितम्बर को उत्तर कोलकाता में रैली निकाली जायेगी, जिसका नेतृत्व भी मुख्यमंत्री ममता बनर्जी करेंगी.

इसे भी पढ़ें : मंडल डैम पहुंचे केएन त्रिपाठी ने जेपी नड्डा के बयान को बताया झूठा, कहा- मंडल के नाम पर लोगों को गुमराह कर रही भाजपा

शुरू से विरोध में हैं ममता

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री शुरू से ही एनआरसी का विरोध करती रही हैं. शनिवार को जब असम में एनआरसी की अंतिम सूची आयी तब उन्होंने ट्वीट कर कहा कि भारत के पूर्व राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद के परिवार का नाम भी नागरिकता सूची से बाहर कर दिया गया है. गोरखा लोगों को नागरिकता नहीं दी गयी है. यह भारतीयों के साथ अन्याय है.

इसे भी पढ़ें : स्वच्छ भारत के लिए पीएम मोदी को  बिल एंड  मिलिंडा गेट्स फाउंडेशन सम्मानित करेगा

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: