न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

मलेशिया के प्रधानमंत्री जाकिर नाईक को भारत भेजने को तैयार नहीं

339

NewDelhi : मलेशिया के प्रधानमंत्री महातिर मोहम्‍मद ने कहा कि उनका देश वर्तमान समय में जाकिर नाईक को भारत भेजने के लिए तैयार नहीं है. मोहम्‍मद ने कहा कि जब तक जाकिर नाईक उनके देश में किसी तरह की परेशानी पैदा नहीं करते, तब तक उन्‍हें भारत भेजने का सवाल ही नहीं उठता. उनके बयान के बाद विवादित इस्‍लामिक प्रचारक जाकिर नाईक के भारत लौटने की खबर को ब्रेक लग गया है. मलेशिया के प्रधानमंत्री के बयान से भारत को झटका लगा है. बता दें कि विदेश मंत्रालय ने इस साल जनवरी में नाईक को प्रत्यर्पित करने का औपचारिक अनुरोध मलेशिया की सरकार से किया था.

eidbanner

एनआईए ने विवादित इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक के खिलाफ विशेष अदालत में आरोप पत्र दायर किया था

बता दें कि जाकिर नाईक  अपने घृणा भाषणों के जरिये युवाओं को आतंकवादी गतिविधियों के लिए कथित तौर पर भड़काने के आरोप में भारत में वांछित है. हालांकि विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि, हमारे अनुरोध पर मलेशियाई पक्ष गंभीरता से विचार कर रहा है. हमारा कुआलालम्पुर में हमारा उच्चायोग इस संबंध में संबंधित मलेशियाई अधिकारियों से नियमित सम्पर्क में है. जान लें कि एनआईए ने नफरत भरे भाषणों के जरिए युवाओं को आतंकी गतिविधियों के लिए उकसाने और समुदायों के बीच शत्रुता बढ़ाने के आरोप में विवादित इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक के खिलाफ विशेष अदालत में आरोप पत्र दायर किया था.

Related Posts

 पाकिस्तानी ब्लॉगर और पत्रकार की हत्या, सेना और आईएसआई के आलोचक थे मोहम्मद बिलाल खान

खबरों के अनुसार बिलाल खान पाकिस्तानी सेना और जासूसी एजेंसी आईएसआई की आलोचना करने के लिए जाने जाते थे.

ढाका में आतंकी हमले के बाद नाइक देश से बाहर चला गया था

याद करें कि एक जुलाई, 2016 को  बांग्लादेश की राजधानी ढाका में आतंकी हमले के बाद नाइक देश से बाहर चला गया था. बांग्लादेश ने दावा किया था कि हमले में शामिल आतंकवादी नाइक के भाषणों से प्रेरित थे. एनआईए ने 18 नवंबर, 2016 को अपनी मुंबई शाखा में नाइक के खिलाफ यूएपीए कानून और भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था. बता दें कि नाइक के संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) को केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा गैरकानूनी संगठन घोषित किया जा चुका है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: