JharkhandRanchi

ग्राम विशेष की आवश्यकता को देखकर योजना बनाएं: मनरेगा आयुक्त

महिला मेटों की समस्याओं को सुन उन पर कार्य करने का आश्वासन दिया

Ranchi: मनरेगा आयुक्त राजेश्वरी बी ने महिला मेटों से बुधवार को सीधा संवाद किया. सभी जिलों के विभिन्न प्रखंडों में मनरेगा के माध्यम से ग्रामीणों के जीवन स्तर एवं जीविका में सुधार के उद्देश्य से मनरेगा आयुक्त ने महिला मेटो से किया संवाद. महिला मेटो की समस्या सुनी, गांव के लिए जरूरी योजना की जानकारी ली. साथ ही, मनरेगा के माध्यम से कैसे ग्रामीणों के लिए उपयोगी योजनाओं पर कार्य किया जा सके इस पर निर्देश दिया.

मनरेगा के तहत किए जा रहे विभिन्न प्रखंड कार्यक्रमों की निगरानी कर रहे मनरेगा आयुक्त ने कहा, “सरकार के द्वारा आमजनों को मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध कराने के साथ-साथ इसके तहत तैयार होने वाली योजना में ग्राम विशेष की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए कार्य योजना तैयार हो. इसके लिए इस तरह के संवाद कार्यक्रम करवाए जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :पलामू : एक अगस्त से शुरू होगी बरकाकाना-डेहरी, बरवाडीह-डेहरी और चोपन-गोमो पैसेंजर ट्रेन

advt

साथ ही, कई बार लोगों को मनरेगा के तहत किये जाने वाले कार्यों की पूर्ण जानकारी नहीं होने से भी कुछ लोग लाभ से वंचित रह जाते हैं. भविष्य में ऐसा न हो इस हेतु ऐसे संवाद कार्यक्रम आगे भी आयोजित किये जाएंगे.

इससे आमजनों में भी सहभागिता का भाव जगता है और इससे मनरेगा कर्मियों की समृद्धि के साथ-साथ गांव की समृद्धि भी संभव हो पाएगी.

adv

मनरेगा आयुक्त राजेश्वरी बी ने महिला मेटों को गांव के लोगों को मनरेगा से जोड़ने के लिए गांव में एक बैठक करने को कहा जिसमें समग्र विकास पर एवं सामुदायिक विकास पर परिचर्चा करें.

इसे भी पढ़ें :धनबाद केजज की मौत हत्या है? सीसीटीवी फुटेज से लगता है कि उन्हें ऑटो ने जानबूझकर मारी थी टक्कर ! देखें वीडियो

गांव के हर जरूरतमंद को मनरेगा से जोड़ा जाएगा

वर्चुअल बैठक के उपरांत महिला मेटो के सुझाव के आधार पर मनरेगा आयुक्त के द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि गांव के हर एक जरूरतमंद परिवार को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) से लाभ देकर गांवों को आत्मनिर्भर करने का प्रयास किया जाएगा. इसके साथ ही, सरकार की अन्य सभी फ्लैगशिप योजनाओं को भी गांवों में पूर्णतया लागू कराया जाएगा.

इसे भी पढ़ें :Bihar: कोरोना की तीसरी लहर को लेकर हाईकोर्ट ने जताई चिंता, सरकार को किया अलर्ट

महिला मेटों ने दिया भरोसा

बातचीत के दौरान महिला मेटों ने यह भरोसा जताया है कि सभी लोग मनरेगा एवं अन्य सरकार की गरीबी उन्मूलन योजना तथा समग्र विकास की अन्य योजनाओं से जुड़कर आत्मनिर्भर बनने की दिशा में सभी वांछित कदम उठाएंगे.

इसी तर्ज पर मनरेगा के माध्यम से ग्रामीणों की जीविका में सुधार तथा जीवन स्तर में परिवर्तन के उद्देश्य से खूंटी जिले के तोरपा प्रखंड के इतवारी दीदी (महिला मेट) ने जानकारी दी कि ग्रामीणों को मनरेगा योजनाओं जैसे टीसीबी, फील्ड बंड, शॉक फिट, वाटर हारवेस्टिंग, आम बागवानी, आदि सभी मनरेगा योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई और भुगतान संबंधित सभी जानकारी से अवगत कराया गया.

साथ ही, उनके द्वारा मनरेगा में कार्य करने के लिये लोगों को प्रेरित भी किया गया. ऐसे लोग जिनका जॉब कार्ड निर्गत नहीं हैं उनका नया जॉब कार्ड भी बनवाया गया.

इसे भी पढ़ें :Jharkhand: चार जिला परिवहन पदाधिकारियों का तबादला, दो को अतिरिक्त प्रभार

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: