National

#Maharashtra: बन गयी बात! कल राज्यपाल से मिल सकते हैं शिवसेना-कांग्रेस-NCP नेता, पवार ने कहा- 5 साल चलेगी सरकार

Nagpur: महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर तस्वीर साफ होती नजर आ रही है. राकांपा प्रमुख शरद पवार ने महाराष्ट्र में मध्यावधि चुनाव की संभावना को खारिज करते हुए शुक्रवार को कहा कि राज्य में शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस की सरकार बनेगी और यह पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी. महाराष्ट्र में फिलहाल राष्ट्रपति शासन है.

Jharkhand Rai

Samford

इस बीच शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के नेताओं ने शनिवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मिलने का समय मांगा है. ऐसे में चर्चा है कि सरकार गठन को लेकर ये मुलाकात होनी है. हालांकि, तीनों पार्टियों के नेताओं ने यह समय किसानों के मसले पर बात करने के लिए मांगा है.

इसे भी पढ़ेंःचीफ जस्टिस रंजन गोगोई आज अंतिम बार हुए पीठ में शामिल, तीन मिनट में जारी किये 10 नोटिस

देंगे स्थायी सरकार जो पांच साल चलेगी- पवार

एनसीपी चीफ ने कहा कि तीन दल एक स्थायी सरकार बनाना चाहते हैं जो विकासोन्मुख होगी. पवार ने यहां पत्रकारों से कहा कि मध्यावधि चुनाव की कोई संभावना नहीं है. यह सरकार बनेगी और पूरे पांच साल चलेगी. हम सभी यही आश्वस्त करना चाहेंगे कि यह सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी.

यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा राज्य में सरकार गठन के लिये राकांपा के साथ चर्चा कर रही थी, इस पर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उनकी पार्टी सिर्फ शिवसेना, कांग्रेस और गठबंधन सहयोगियों के साथ बात कर रही है, इसके अलावा किसी से नहीं.

इसे भी पढ़ेंःपारा शिक्षक और पंचायत स्वंय सेवक घर-घर जाकर कोस रहे #BJP को, रसोईया संयोजिका दबायेंगी नोटा

कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर मंथन

उन्होंने कहा कि तीनों दल फिलहाल साझा न्यूनतम कार्यक्रम (सीएमपी) पर काम कर रहे हैं, जो राज्य में सरकार की योजनाओं के क्रियान्वयन में मार्गदर्शन करेगा.

तीनों दलों के प्रतिनिधियों ने गुरूवार को मुंबई में मुलाकात की और सीएमपी का मसौदा तैयार किया.

पवार ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की उस टिप्पणी पर निशाना साधा जिसमें उन्होंने कहा था कि शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस की सरकार छह महीने से अधिक समय तक नहीं चल पायेगी.

पवार ने चुटकी लेते हुए कहा कि मैं कुछ साल से देवेंद्र जी को जानता हूं, लेकिन मैं यह नहीं जानता था कि वह ज्योतिष भी हैं.

पवार ने फडणवीस की ‘मैं फिर आऊंगा’ के नारे पर भी निशाना साधा. पवार ने कहा, ‘यह ठीक है उन्होंने (फडणवीस ने) यह कहा. लेकिन मैं तो कुछ और सोच रहा था. वह कहते थे – मैं फिर आऊंगा, मैं फिर आऊंगा. अब आप (पत्रकार) कुछ और जानकारी दे रहे हैं.’

इसे भी पढ़ेंःक्या सीएम रघुवर दास बांग्लादेश में जारी पीएम मोदी के उस फर्जी पत्र की पुष्टि कर रहे हैं, जिसका खंडन विदेश मंत्रालय ने किया है

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: