न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

महाअष्टमी को ले पंडालों में दिखी भक्तों की भीड़, दुर्गा बाटी में की गयी कुंवारी पूजा

87

Ranchi: महाअष्टमी को ले दुर्गा बाटी में भक्तों की भीड़ देखी गयी. सुबह सात बजे से ही यहां पूजा शुरू कर दी गयी थी. वहीं भक्तों का आना भी सुबह से ही प्रारंभ था. पूजा के साथ ही चंडी पाठ सुबह सात बजे से ही शुरू कर दी गयी थी. मुख्य पुजारी शांतनु भट्टाचार्य ने चंडी पाठ आरंभ किया. प्रत्येक साल दुर्गा पूजा के लिए बंगाल से रांची आते है. चंडी पाठ के बाद यहां कुंवारी पूजा की गयी. जिसमें एक कन्या को मां के रूप में सजा कर भक्तों के बीच लाया गया. इस दौरान कन्या की पूजा भी की गयी. संधि बेला 12:03 मिनट से लेकर 12:59 मिनट तक होने के कारण यहां संधि पूजा इसी मुहूर्त में किया गया. जिसमें भक्तों की काफी भीड़ थी.

इसे भी पढ़ें: जैप-1 में निकला फूल-पाती जुलूस, मां दुर्गा को 40 राउंड गोलियों की दी गयी सलामी

महानवमी को खेला जायेगा सिंदूर

बंगाली समाज की पारंपरिक सिंदूर खेल महानवमी को दुर्गा बाटी परिसर में किया जायेगा. प्रत्येक साल राजधानी स्थित दुर्गा बाटी में सिंदूर खेल का आयोजन किया जाता है. जिसमें बंगाली समाज की महिलाएं पारंपरिक वस्त्र में यहां उपस्थित होती हैं और मां दुर्गा को सिंदूर लगाकर ‘सिंदूर खेल’ शुरू किया जाता है. ऐसी मान्यता है कि सिंदूर खेल अखंड सुहाग की प्राप्ति के लिए किया जाता है. जिसमें महिलायें एक-दूसरे को सिंदूर लगाती है.

इसे भी पढ़ें: दुर्गा पूजा में महंगाई का असर, पूजन सामग्रियां हुईं महंगी

अन्य पंडालों में भी देखी गयी भीड़

महाअष्टमी को ले शहर के अन्य पंडालों में भी भीड़ देखी गयी. जिसमें बिहार क्लब, पंच मंदिर हरमू, आरआर स्पोर्टिंग क्लब, चंद्रशेखर आजाद, रेलवे स्टेशन समेत अन्य पंडालों में भीड़ देखी गयी. सुबह से ही इन पंडालों में भक्तों की भीड़ थी. संधि बेला को ध्यान में रखते हुए अधिकांश पंडालों में एक बजे के बाद लोगों की भीड़ कम देखी गयी.

palamu_12

किया गया बलि प्रदान: 12:03 मिनट से 12:59 मिनट तक संधि बेला होने के कारण अधिकांश पंडालों में इसी समय बलि प्रदान किया गया. जिसमें विधि विधान से भतुआ की बलि दी गयी. जिसके बाद नवमी शुरू हो गया.

इसे भी पढ़ें: दुर्गा पूजा के दौरान सुरक्षा से जुड़ी कोई परेशानी हो, तो इन नंबरों पर कर सकते हैं कॉल 

सुरक्षा व्यवस्था

भक्तों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पंडालों में महिला और पुरूष बलों को नियुक्त की गयी है. दुर्गा बाटी, चंद्रशेखर, बिहार क्लब, रांची रेलवे स्टेशन, आरआर स्र्पोटिंग क्लब समेत अन्य पंडालों में महिला पुलिस कर्मियों को देखा गया. वहीं पूजा को ध्यान में रखते हुए पार्किंग की भी उचित व्यवस्था शहर के अनेक भागों में की गयी है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: