न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मेदिनीनगर में दिखी मिट्टी की जादूगरी : उपायुक्‍त

विलुप्त हो रही मिट्टी की कला हुई पुनर्जीवित, प्रदर्शनी सह बिक्री केंद्र का उपायुक्त ने किया उद्घाटन

37

Palamu : राज्य माटी कला बोर्ड के सदस्य अविनाश देव ने विलुप्त हो रही माटी कला को पुनर्जीवित करने और शिल्पकारों की आर्थिक एवं सामाजिक स्थिति मजबूत करने की पहल तेज कर दी है. इस सिलसिले में सोमवार को माटी कला बोर्ड के को-ऑपरेटिव भवन स्थित स्थानीय कार्यालय में प्रदर्शनी सह बिक्री केंद्र का उद्घाटन उपायुक्त डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि ने किया.

इसे भी पढ़ें:पलामू : पांच दिनों तक चलने वाला दीवाली महोत्सव शुरू, धनतेरस पर गुलजार हुआ बाजार

मिट्टी के बर्तनों की मार्केटिंग कराने का प्रयास

मौके पर उपायुक्त ने कहा कि मिट्टी के बर्तनों के उपयोग से जीवन स्वस्थ व निरोग होता है. मिट्टी के बर्तनों का निर्माण बड़े पैमाने पर कराया जाए, तो इससे बेरोजगारी दूर होगी और पलायन रूकेगा. कहा कि पारंपरिक तकनीकों को छोड़कर बर्तन बनाने की नई तकनीक से कुम्हार समाज को जोड़ने की जरुरत है. उन्होंने कहा कि सरकारी स्तर से मिट्टी के बर्तनों की मार्केटिंग कराने का प्रयास किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें:छठी जेपीएससी मुख्य परीक्षा सबजेक्टिव होगी, जनवरी 2019 में होगा मेंस

बढ़ेंगे रोजगार के अवसर

बोर्ड के सदस्य अविनाश देव ने कहा कि अत्यंत पिछड़े कुम्हार समाज को उपायुक्त के साथ मिलकर नई तकनीकों से जोड़ते हुए विकास की नई उंचाईयों पर ले जाने का प्रयास करेंगे. मिट्टी हमारी प्राचीन कला है. इस कला को पूरी तरह विकसित किए जाने से प्रदूषण पर भी नियंत्रण लग सकेगा. रोजगार के अवसर बढ़ेंगे. मौके पर अन्य लोगों के अलावा भाजपा के जिला अध्यक्ष नरेंद्र पांडेय, जिला परिषद सदस्य लवली गुप्ता और युवा समाजसेवी अमित आनंद भी मौजूद थे. प्रदर्शनी में मिट्टी के विभिन्न प्रकार के बरतन रखे गये हैं. यहां मिट्टी के फ्रीज और कुकर लोगों के लिए आकर्षण के केंद्र हैं. यहां शिल्पकारों की मिट्टी की जादूगरी साफ देखने को मिल रही है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: