न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मध्य प्रदेशः सात साल की बच्ची से हैवानियत, काटनी पड़ी आंत

454

Mandsaur:  मध्य प्रदेश के मंदसौर में एक साल की बच्ची को अगवा कर उसका रेप करने का मामला सामने आया है. स्कूल की छुट्टी के बाद मासूम अपने घर जाने के लिए निकली थी, इसी बीच आरोपी ने उसे अगवा कर दरिंदगी को अंजाम दिया. वारदात के बाद से बच्ची की हालत नाजुक है, उसका ऑपरेशन इंदौर के एमवाय अस्पताल में हुआ. डॉक्टर्स को बच्ची की आंत काटनी पड़ी. वही इस घटना को लेकर लोगों में खासा रोष है.

इसे भी पढ़ेंःभीड़ का खूनी खेल ! त्रिपुरा में बच्चा चोरी के अफवाह में एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या

 

बताया जा रहा है कि मंगलवार को स्कूल से लौटने के दौरान बच्ची का अपहरण किया गया. वही बुधवार को वो झाड़ियों में जख्मी हालत में मिली. बच्ची के साथ इस कदर दरिंदगी की गई कि जब डॉक्टर और पुलिस ने उसे देखा तो वो भी सकते में आ गये. मिली जानकारी के मुताबिक, बच्ची का प्राईवेट पार्ट्स लहूलुहान था, उसके पूरे शरीर पर दांत से काटने के निशान थे. रात में ही डॉक्टरों को उसका ऑपरेशन करना पड़ा. आंतों को काटकर बाहर एक रास्ता बनाकर प्राइवेट पार्ट्स को ऑपरेट किया गया.

उबाल पर लोगों का आक्रोश

सात साल की छोटी सी बच्ची के साथ इस हद की हैवानियत से लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर है. गुरुवार को घटना के विरोध में मंदसौर बंद रहा. लोगों ने अपनी दुकानें बंद रखी. वही लोगों के भारी आक्रोश के कारण पुलिस आरोपी इरफान खान को कोर्ट में पेश नहीं कर पाई. जिसके बाद कोर्ट खुद कंट्रोल रूम पहुंची, जहां इरफान को 2 जुलाई तक पुलिस रिमांड में रखे जाने का फैसला हुआ. ज्ञात हो कि आरोपी के खिलाफ पहले से भी कई मामले दर्ज हैं. पुलिस ने कहा कि पूछताछ में इरफान ने अपना अपराध कबूल करते हुए बताया कि बच्ची का अपहरण और उसके साथ बलात्कार करने के बाद उसका गला रेत कर हत्या करने की भी कोशिश की.

जांच के लिए 15 सदस्यीय टीम गठित

मध्यप्रदेश पुलिस का कहना है कि उन्होंने जांच के लिए अफसरों की 15 सदस्यीय टीम बनाई गई है. और 20 दिन में चालान पेश कर आरोपी को फांसी की सजा दिलाने की बात कही. वही बच्ची के पास सुरक्षा के लिए दो पुलिसकर्मी तैनात हैं. पीड़ित परिवार को भी किसी से मिलने नहीं दिया जा रहा. पुलिस ने अपहरण रेप का केस दर्ज कर स्कूल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाले, जिसमें बच्ची एक युवक के पीछे जाती दिख रही है. पुलिस ने मामले में 20 साल के इमरान को गिरफ्तार किया है.

दरिंदे को मिले फांसी-पिता

तीसरी क्लास में पढ़नेवाली अपनी मासूम सी बच्ची के साथ हुई हैवानियत पर उसके माता-पिता के आंसू नहीं रुक रहे. उन्हें अपनी बच्ची के ठीक होने का इंतजार है. मासूम के पिता ने बताया कि मेरी बच्ची उठती है और सो जाती है. वह सिर्फ एक बार बोली. पीड़ित बच्ची के पिता ने कहा कि जिस दरिंदे ने मेरी बच्ची के साथ ऐसा किया है उसे चौराहे पर खड़ा कर फांसी हो, तभी हमारी आत्मा को शांति मिलेगी.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: