National

मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का निधन, लंबे समय से थे बीमार

Lucknow: मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का मंगलवार सुबह मेदांता अस्पताल में निधन हो गया. वह 85 वर्ष के थे. मेदांता अस्पताल के निदेशक डॉ राकेश कपूर ने कहा कि मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन का सुबह पांच बजकर 35 मिनट पर निधन हो गया.

सोमवार देर रात लालजी टंडन की हालत फिर बिगड़ गयी थी. गंभीर हालत में उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. जिसके बाद मंगलवार सुबह उनका निधन हो गया.

शाम साढ़े चार बजे होगा अंतिम संस्कार

टंडन के पुत्र एवं उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन ‘गोपाल जी’ ने जानकारी दी कि लालजी टंडन का अंतिम संस्कार गुलाला घाट चौक में शाम साढ़े चार बजे होगा. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टंडन के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है.

उन्होंने  कहा कि लालजी टंडन के निधन पर देश ने एक लोकप्रिय जन नेता, योग्य प्रशासक एवं प्रखर समाज सेवी को खो दिया है. उत्तर प्रदेश सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि राज्य सरकार ने तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है.

लंबे समय से थे बीमार

टंडन को पिछले महीने 11 जून को सांस लेने में दिक्कत, बुखार और पेशाब संबंधी समस्या के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनकी तबीयत खराब होने के कारण उत्तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल को मध्‍य प्रदेश का अतिरिक्‍त कार्यभार सौंपा गया था.

इधर, मेदांता अस्पताल के डायरेक्टर डॉ. राकेश कपूर के अनुसार लालजी टंडन के किडनी फंक्शन में दिक्कत थी. जिसकी वजह से डायलिसिस करने की जरूरत पड़ रही थी. लेकिन बाद में उनके लिवर फंक्शन में भी दिक्कत शुरू हो गयी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button