Fashion/Film/T.VLead News

दयावान में दोगुनी उम्र के विनोद खन्ना के साथ किसिंग सीन करने का माधुरी को है पछतावा

  • अभिनय और खूबसूरती का अनूठा संगम माधुरी दीक्षित के जन्मदिन पर विशेष

Naveen Sharma

Ranchi : माधुरी दीक्षित हिंदी सिनेमा की उन चंद हिरोइन में शामिल हैं जो खूबसूरत होने के साथ ही अभिनय भी अच्छा करती हैं. वे अच्छी नृत्यांगना भी हैं. वो कुछ कुछ वहीदा रहमान की याद दिलाती हैं. माधुरी दीक्षित की एक और खासियत उनकी लाजवाब मुस्कान भी है.

advt

डॉक्टर बनना चाहती थीं

माधुरी दीक्षित का जन्म 15 मई 1967 को मुंबई में हुआ था. माधुरी ने शुरुआती पढ़ाई डिवाइन चाइल्ड हाई स्कूल से की है. उसके बाद मुंबई यूनिवर्सिटी से स्नातक की शिक्षा पूरी की. पिता शंकर दीक्षित और माता स्नेह लता दीक्षित की लाडली माधुरी को बचपन से डॉक्टर बनने की चाह थी, लेकिन वह अभिनेत्री बन गयी.

इसे भी पढें :लॉकडाउन से सेनेटरी और हार्डवेयर सामग्री की बिक्री 60 फीसदी घटी

अबोध से शुरू हुआ करियर, तेजाब से चमकी किस्मत

माधुरी ने फ़िल्मी करियर की शुरुआत साल 1984 में राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म अबोध से की थी. यह फिल्म कुछ खास नहीं चली. माधुरी को शुरुआती करियर में कई असफलताओं का मुंह देखना पड़ा. उनके किस्मत का सितारा चमका फिल्म तेजाब (1988) से.

इस फिल्म में उन्हें बेहतरीन अदाकारी के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार का पहला नामकंन भी मिला था. इस फिल्म का गाना एक दो तीन.. आज भी माधुरी दीक्षित का आइकॉनिक सांग माना जाता हैं. इस सफल फिल्म के बाद लगातार कई हिट फ़िल्में दी.

इसे भी पढें :शहर में घुसा हाथी, रात भर दहशत में रहे लोग, हाथी के चपेट में आया युवक, घायल हुआ

अनिल कपूर के साथ जोड़ी बनी

निर्देशक एन चंद्रा की तेजाब में माधुरी की जोड़ी अनिल कपूर के साथ बनी थी. फिल्म सुपरहिट हुई तो ये जोड़ी भी काफी लंबे समय तक चली. अनिल कपूर के साथ उन्होंने तकरीबन 20 फिल्मों में काम किया. इनमें से अधिकतर फ़िल्में सुपरहिट साबित हुई.

खासकर बेटा फिल्म जिसका गाना दिल धक धक करने लगा तो जैसे माधुरी दीक्षित का पहचान बन गया था. फिल्म लेखक उन्हें धक धक गर्ल कहने लगे थे. माधुरी को डांस संसेशन बनाने में डांस डायरेक्टर सरोज खान का सबसे अहम रोल रहा है. माधुरी की अधिकर हिट फिल्मों में डांस डायरेक्शन सरोज ने ही किया है.

इसे भी पढें :बिरसा मुंडा म्यूजियम बना नशेड़ियों और चोरों का अड्डा

दिल फिल्म का जलवा

साल 1990 में उन्होंने आमिर खान स्टारर फिल्म दिल की. यह फिल्म भी सुपर हिट साबित हुई. इस फिल्म में उन्होंने एक आमिर लड़की की भूमिका निभायी थी, जिसे एक गरीब लड़के से प्यार हो जाता है. ना जाने कहां दिल खो गया.. सहित इस फिल्म के अधिकतर गीतों को भी लोगों ने खूब पसंद किया था.

इसे भी पढें :CORONA UPDATES:  देश में कम हो रहा कोरोना का कहर, पिछले 24 घंटे में 3 लाख 42 हजार नए मामले

संजय दत्त से नजदीकियां

फिल्म साजन के वक्त माधुरी दीक्षित फिल्म अभिनेता संजय दत्त के बेहद करीब आ गयी थी. लेकिन उनका यह रिश्ता कुछ ही समय चल सका और बाद में दोनों अलग हो गए. संजय दत्त के साथ उनकी फिल्म खलनायक भी जबर्दस्त हिट रही थी.

इसे भी पढें :इंग्लैंड के खिलाफ भारतीय महिला क्रिकेट टीम घोषित, झारखंड की विकेटकीपर इंद्राणी रॉय को पहली बार मिला मौका


दयावान में विनोद खन्ना के साथ हॉट सीन

माधुरी दीक्षित की उम्र उस वक्त 21 साल थी जबकि विनोद खन्ना 42 के थे. इंडस्ट्री में संघर्ष कर रहीं माधुरी ने उस वक्त फिल्म के लिए हां तो कर दी लेकिन उनको ये मलाल था कि हीरो उम्र में काफी बड़ा है. बहरहाल, फिल्म की शूटिंग शुरू हुई.

फिल्म में माधुरी और विनोद के कुछ इंटीमेट और लिपलॉक सीन थे. जब फिल्म रिलीज हुई तो लोगों ने सबसे ज्यादा इस इंटीमेट सीन के बारे में बात की. उस वक्त वैसे भी इस तरह के सीन फिल्माना बड़ी बात होती थी. बाद में एक इंटरव्यू के दौरान माधुरी ने कहा था कि फिल्म दयावान में उन्होंने जो किसिंग सीन किए, उसका उन्हें आज भी पछतावा होता है. उन्हें वो नहीं करना चाहिए था. खैर, इस फिल्म के बाद माधुरी ने अपने करियर में फिर कभी इतने बोल्ड सीन नहीं दिए.

इसे भी पढें :Corona Update : जल्द मिलेंगी अमेरिकन कंपनी Pfizer के वैक्सीन की 5 करोड़ डोज


हम आपके हैं कौन सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म

उनके करियर को सबसे बड़ी सफलता तब मिली जब उन्होंने राजश्री की फिल्म ‘हम आपके हैं कौन’ की. इस फिल्म में उन्होंने निशा की भूमिका अदा की थी. यह हिंदी सिनेमा की पहली फिल्म थी जिसने वर्ल्डवाइड सब से ज्यादा कमाई की थी. इस फिल्म का यह रिकॉर्ड गिनीजबुक में भी दर्ज है.

इस फिल्म में उनके किरदार के लिए आलोचकों से बहुत अच्छी और सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली. इस फिल्म में माधुरी के अलावा सलमान खान, मोहनीश बहल, रेणुका शाहने,अनुपम खेर, आलोक नाथ भी नजर आये थे.फिल्म में माधुरी ने सबसे ज्यादा फीस भी ली थी, तकरीबन तीन करोड़.
इस फिल्म की कमाई का रिकॉर्ड सात वर्षों तक कोई भी फिल्म नहीं तोड़ पायी, बाद में साल 2002 में सनी देओल स्टारर फिल्म गदर-एक प्रेमकथा ने इस फिल्म के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया.

इसे भी पढें :शहर में घुसा हाथी, रात भर दहशत में रहे लोग, हाथी के चपेट में आया युवक, घायल हुआ

नंबर वन हिरोइन बनीं माधुरी

इस फिल्म के बाद तो माधुरी दीक्षित हिंदी सिनेमा की सबसे सफल अभिनेत्रियोँ में शुमार हो चुकी थी. उसके बाद उन्होंने कई और फिल्मों में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से दर्शकों को मनोरंजन करती रही. इसके बाद तो उन्होंने बॉक्स-ऑफिस पर कई सफलताओं के पैमाने बनाये.

देवदास में पंडित बिरजू महाराज ने नृत्य निर्देशन किया

 

माधुरी दीक्षित कथक नृत्य में पूर्ण पारंगत हैं. उन्होंने आठ साल तक कथक की पूर्ण शिक्षा ली है. हिंदी सिनेमा की वे इकलौती अभिनेत्री हैं, जिन्हें पंडित बिरजू महाराज ने फिल्म देवदास के गाने के लिए कोरियोग्राफ किया था. देवदास में माधुरी अपने अभिनय और नृत्य दोनों प्रतिभाओं का मुजायरा करती हैं.

डॉक्टर नैने से शादी की, अमेरिका जा रहने लगीं

माधुरी दीक्षित डॉक्टर बनना चाहती थीं पर बन नहीं पाईं थी पर इनकी यह इच्छा कुछ दूसरे अंदाज में पूरी हुई जब उन्होंने अमेरिका में बसे डॉक्टर श्रीराम नैने से शादी की और मिसेज डॉक्टर नैने कहलाने लगीं.

2006 में आजा नचले से दूसरी पारी शुरू की

शादी के बाद माधुरी ने फिल्मों से लम्बी दूरी बनाकर विदेश में जाकर बस गयी. साल 2006 में वापस आकर उन्होंने फिल्म आजा नचले से हिंदी सिनेमा में अपनी वापसी की. हालांकि इस फिल्म ने बॉक्स-ऑफिस पर कुछ अच्छा बिजनेस तो नहीं किया, लेकिन माधुरी के अभिनय को आलोचकों ने खूब सराहा. इसके बाद डेढ़ इश्किया और गुलाब गैंग जैसी फिल्मों में काम किया. हालांकि ये फिल्में दर्शकों को सिनेमाघरों तक खीचनें में ज्यादा कामयाब नहीं हो सकीं.

टीवी में भी हाथ आजमाया

इन्होने अपने टीवी करियर की शुरुआत साल 1985 में राजश्री प्रोडक्शन के शो पेइंग गेस्ट से की थी. वह इस शो में मेहमान की भूमिका में नजर आयीं थी. इसके बाद साल 2001 में वह सोनी के शो कौन बनेगा करोड़पति में नजर आयीं.

दीक्षित बतौर जज डांस बेस्ड रियलिटी शो नच बलिए में भी नजर आ चुकी हैं. साथ ही वह डांस बेस्ड रियलिटी शो झलक दिखला जा सीजन 4, 5, 6,7 में बतौर जज नजर आ चुकी हैं.

इसे भी पढें :लॉकडाउन से सेनेटरी और हार्डवेयर सामग्री की बिक्री 60 फीसदी घटी

ये हैं हिट फ़िल्में

तेज़ाब,अबोध, त्रिदेव, राम-लखन,प्रेम ग्रन्थ, हम आपके हैं कौन, हम तुम्हारे हैं सनम, ये रस्ते हैं प्यार के, दिल तो पागल है, देवदास, अंजाम, कानून अपना अपना,बेटा,दिल, राजा, लज्जा, खलनायक,किशन-कन्हैया, घरवाली-बाहरवाली, कोयला, मृत्युदंड, दीवाना मुझसा नहीं,सैलाब,वर्दी,, आज नचले, गुलाब गैंग, डेढ़ इश्किया.

13 बार फिल्मफेयर का नामंकन मिला, चार बार जीतीं

माधुरी को बेहतरीन अदाकारी के लिये चार बार फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार मिला है. एक बार फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री और एक स्पेशल अवार्ड से नवाजा जा चुका है. इन सभी पुरुस्कारों के अलावा उन्हे भारत सरकार् के चतुर्थ सर्वोच्च नागारिक सम्मान “पद्मश्री” से सम्मनित किया गया.

 

जमशेदपुर का है उनका अनूठा फैन

माधुरी के अभिनय और हुस्न के कायल उनके फैन पूरी दुनिया में हैं. उन्हीं में से एक फैन पप्पू सरदार जमशेदपुर का है, जिसने एक कैलेंडर लांच किया, जिसमें वर्ष की शुरुआत माधुरी के जन्मदिन से होती हैं. इतना ही नहीं उसने भारत सरकार से दरख्वास्त की हैं, की माधुरी के जन्मदिन दिन पब्लिक हॉलिडे घोषित किया जाये. वो हर साल उनका जन्मदिन धूमधाम से मनाते हैं और लोगों को अपने स्टाल में मुफ्त में चाट की दावत देते हैं.

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: