BokaroJharkhandLead NewsRanchi

धार्मिक सहिष्णुता का संदेश देता है लुगुबुरु : हेमंत सोरेन

  • पहली बार नहीं हो पाया आस्था और विश्वास से जुड़ा अंतरराष्ट्रीय संथाल सम्मेलन
  • गुरु पूर्णिमा, गुरुनानक जयंती और लुगुबुरु घांटा बाड़ी धोरोम गढ़ में पूजा अनुष्ठान के कारण आज का दिन है खास

Ranchi : कोरोना महामारी के कारण पहली बार कार्तिक पूर्णिमा पर अंतरराष्ट्रीय संथाल सम्मलेन का आयोजन नहीं हो पाया. बोकारो जिले के ललपनिया के लुगुबुरु घांटा बाड़ी धोरोम गढ़ में सम्मेलन का आयोजन नहीं किया जा सका. लेकिन इस मौके पर विशेष अनुष्ठान किया गया, जिसमें मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन मौजूद थे.

उन्होंने कहा कि आज का दिन कई धर्मों के लिए बेहद खास है. गुरु पूर्णिमा और गुरु नानक जयंती के साथ संथालों के इस पवित्र स्थान में विशेष पूजा अनुष्ठान का आयोजन किया गया है. यह धार्मिक सहिष्णुता का संदेश देता है, जो सभी धर्मों का सम्मान करना सिखाता है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह पवित्र धार्मिक धरोहर संथालों की अटूट आस्था और विश्वास का प्रतीक है. यहां से संथालों का गौरवशाली अतीत जुड़ा है.

हर साल कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर यहां होनेवाले अंतरराष्ट्रीय संथाल सम्मेलन में हजारों की संख्या में देश दुनिया से संथाल शामिल होते आये हैं, लेकिन इस वर्ष कोरोना महामारी की वजह से इसका आयोजन नहीं हो रहा है.

इसे भी पढ़ें : ड्राइविंग लाइसेंस बनानेवालों के लिए टाइम स्लॉट बुकिंग बनी समस्या, परेशान हैं आवेदक

कोरोना संक्रमण से लड़ाई में आप सभी का अहम योगदान

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण का खतरा अभी खत्म नहीं हुआ है, इसलिए सावधानी और सतर्कता बरतने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से लड़ाई में आप सभी का शुरू से सहयोग मिलता आ रहा है. उन्होंने उम्मीद जतायी कि सबकी मदद से कोरोना की जंग जीती जा सकेगी.

इसे भी पढ़ें : पलामू की सड़कों पर दौड़ती रही मौत, अलग-अलग हादसों में तीन की मौत-दो गंभीर

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: