न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लखनऊ शूटआउटः सोशल मीडिया पर पोस्टर वायरल, ‘पुलिस वाले अंकल, प्लीज गोली मत मारियेगा’

121

Lucknow: लखनऊ में पुलिस की गोली का शिकार हुए विवेक तिवारी की मौत के बाद लोगों में गुस्सा बढ़ने लगा है. मामले को लेकर लखनऊ ही नहीं बनारस जैसे शहरों में भी लोग अपने तरीके से विरोध जता रहे हैं. विवेक तिवारी अमर रहे के स्टीकर्स गाड़ियों में नजर आ रहे हैं. वही सोशल मीडिया पर एक पोस्टर भी वायरल हो रहा है.

इसे भी पढ़ेंःखदान आवंटन मामले में फंस सकते हैं CS रैंक के साथ दो IFS, जिस फाइल पर खदान की अनुशंसा हुई, वह भी गायब

‘पुलिस वाले अंकल गोली मत मारियेगा’

hosp3

विवेक तिवारी की हत्या को लेकर सोशल मीडिया में एक पोस्टर वायरल हो रहा है. जिसमें लिखा गया कि पुलिस वाले अंकल गोली मत मारियेगा.

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्टर में बच्चे कुछ पोस्टर लेकर खड़े हुए नजर आ रहे हैं. इन पर लिखा है कि ‘आप गाड़ी रोकेंगे तो पापा रुक जाएंगे…प्लीज गोली मत मारिएगा.’  इस घटना के बाद लोग काफी डरे हुए हैं. लोगों का कहना है कि जिस तरह से विवेक के गाड़ी नहीं रोकने की छोटी सी बात पर पुलिस की तरफ से उसे गोली मार दी. इससे बड़ें तो क्या बच्चों में भी दहशत है.

इसे भी पढ़ें – पाकुड़ः सहायक खनन पदाधिकारी पर कार्रवाई की अनुशंसा के बाद भी डीसी नहीं करते कोई कार्रवाई

सीएम ने मिली विवेक की पत्नी

सीएम से मिली विवेक की पत्नी कल्पना तिवारी

इधर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना तिवारी ने मुलाकात की है. सोमवार सुबह कल्पना और विवेक का साला विष्णु मुख्यमंत्री आवास पहुंचे और सीएम योगी से मुलाकात की. ज्ञात हो कि रविवार को ही उन्होंने कल्पना तिवारी से फोन पर बात की थी. UP CM ने उनसे बात कर हर संभव मदद का भरोसा दिया था.

इसे भी पढ़ें – गैरमजरूआ जमीन को वैध बनाने का चल रहा खेल, राजधानी के पुंदाग में खाता संख्या 383 की काटी जा रही लगान रसीद

25 लाख का मुआवजा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने के बाद विवेक की पत्नी कल्पना तिवारी ने बताया कि मुख्यमंत्री ने उन्हें 25 लाख रुपये का मुआवजा देने की बात कही है. इसके साथ ही दोनों बेटी और विवेक की मां के लिए 5-5 लाख रुपये का फिक्स्ड डिपोजिट देने का फैसला किया है. इसके अलावा राज्य सरकार परिवार के लिए आवास की भी व्यवस्था करेगी.

उल्लेखनीय है कि, शुक्रवार को ऐपल के एरिया सेल्स मैनेजर विवेक आईफोन की लॉन्चिंग से घर लौट रहे थे. इसी दौरान रास्ते में यूपी पुलिस के कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी ने उन्हें रोकने का इशारा किया. गाड़ी नहीं रोकने पर उन्होंने गोली चला दी. इस घटना में गंभीर रूप से घायल विवेक की इलाज के दौरान मौत हो गई.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: