न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

एलआरडीसी ने नामकुम सीओ की ओर से की गयी दोहरी जमाबंदी को किया रद्द

हेथू मौजा के खाता नंबर 14, प्लॉट-1300 की गैर इरादतन जमाबंदी किये जाने का मामला, एक ही जमीन को दो बार बेचे जाने का है मसला

641

Ranchi: राजधानी रांची के नामकुम अंचल के अंचलाधिकारी की तरफ से हेथू मौजा में एक ही जमीन की दो बार जमाबंदी किये जाने के मामले को उप समाहर्ता भूमि सुधार (एलआरडीसी) ने रद्द कर दिया है.

eidbanner

निर्मला देवी बनाम राज्य सरकार की ओर से दायर दोहरी जमाबंदी वाद संख्या 25/17-18 की सुनवाई करते हुए एलआरडीसी मनोज कुमार ने गीता देवी, नीता देवी और पवन कुमार के नाम से बेची गयी जमीन की दाखिल-खारिज किये जाने को भी रद्द कर दिया है.

आदेश में नामांतरण (म्यूटेशन) वाद संख्या-1211 आर 27/2008-09, 1214 आर 27/2008-09, 2060 आर / 2009/10, 1495 आर 27/2010-11 द्वारा खतियानी रकबा के विरुद्ध अधिक भूमि की जमाबंदी को रद्द कर दिया है.

इसे भी पढ़ेंःहज़ारीबाग में दिखी रेलवे और पुलिस की संवेदनहीनता, शव के ऊपर दौड़ती रही ट्रेन

रैयती जमीन की दो पावर होल्डरों ने करायी अवैध जमाबंदी

हेथू मौजा की 72 डिसमिल जमीन की बिक्री दो पावर होल्डरों ने की थी. इसमें पावर दस्तावेज संख्या 596 के माध्यम से हिनू के साकेत नगर निवासी अजय कुमार ने 9 मई 2005 को निर्मला देवी, दीपक कुमार वर्मा, पवन रेखा देवी को यह जमीन बेच दी.

Related Posts

दर्द-ए-पारा शिक्षक: उधार बढ़ने लगा तो बेटों ने पढ़ाई छोड़कर शुरू की मजदूरी, खुद भी सब्जियां बेच निकाल रहे खर्च

इंटर तक पढ़ी हैं दो बेटियां, मानदेय नहीं मिलने के कारण आगे नहीं पढ़ा पा रहे

वहीं दूसरे पावर होल्डर जयचंद साहू और रत्नेश झा ने 8 फरवरी 2003 को नीता देवी, गीता देवी, पवन कुमार को यह जमीन बेच दी. इन दोनों पावर होल्डरों की तरफ से बेची गयी जमीन की दाखिल-खारिज भी नामकुम अंचल से करा दी गयी.

इसे भी पढ़ेंःराजधानी में मोआवोदियों की पोस्टरबाजी, बरियातू थाना क्षेत्र में कई जगहों पर लगाये पोस्टर

एलआरडीसी ने कहा- हल्का कर्मचारी ने दी गलत रिपोर्ट

एलआरडीसी के आदेश में कहा गया है कि तत्कालीन हल्का कर्मचारी और अंचल निरीक्षक ने अपने जांच प्रतिवेदन में गलत रिपोर्ट देकर दोहरी जमाबंदी की है. इसकी अनुशंसा तत्कालीन अंचल अधिकारी के द्वारा भी की गयी थी. यहां बताते चलें कि इससे संबंधित एक मामला लोकायुक्त के यहां भी विचाराधीन है.

इसे भी पढ़ेंःराजद प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा पहुंची सीएम आवास, बीजेपी में होंगी शामिल, राजद के सुभाष यादव भड़के

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: