न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लंदन : ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ के जीवित रहते शोकसभा कैसल डव का रिहर्सल

443

London : लंदन से एक चौंकाने वाली खबर आयी है. खबरों के अनुसार यूके पार्लियामेंट के कुछ सीनियर मंत्रियों ने ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन का शोक मनाने का रिहर्सल किया. शोक मनाने की यह रिहर्सल बेहद ही गोपनीय तरीके से की गयी. बता दें कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रही हैं. बीमार होने की वजह से बकिंघम पैलेस ने उनके पिछले सप्ताह की सारी मीटिंग्स कैंसिल कर दी थी.

अब शोक मनाने के रिहर्सल की खबर आने से हड़कंप मच गया है. मी़डिया रिपोर्ट्स के अनुसार कैसल डव नाम का रिहर्सल किया गया. रिहर्सल में कई कैबिनेट मंत्री भी शामिल थे. कहा गया कि रिहर्सल में मंत्रियों ने D+1 यानी महारानी के मौत के अगले दिन को लेकर चर्चा की. द संडे टाइम्स के अनुसार कैसल डव नाम की रिहर्सल में कई कैबिनेट मंत्री और अधिकारी मौजूद थे.  ब्रिटेन के इतिहास में यह पहली बार है जब राजपरिवार के किसी सदस्य की मौत से पहले नेताओं ने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ चर्चा की हो.

इसे भी पढ़ें – बंद के दौरान उपद्रवियों की CCTV से होगी निगरानी, 5000 जवान संभालेंगे सुरक्षा का जिम्मा

निधन के बाद सर्वप्रथम काउंसिल में राजगद्दी के अगले वारिस को लेकर चर्चा होगी

पिछले साल गार्जियन अखबार ने महारानी के निधन के बाद राजमहल और सरकार की ओर से उठाये जाने वाले कदमों की जानकारी दी थी.  इसमें बताया गया था कि निधन के बाद सबसे पहले काउंसिल में राजगद्दी के अगले वारिस को लेकर चर्चा होगी.  इसके बाद बकिंघम पैलेस के दरवाजे पर महारानी के निधन की सूचना लगाई जायेगी. इसे दुनियाभर की न्यूज एजेंसियों को जारी कर दिया जायेगा.  रेडियो और टीवी स्टेशनों को बैकग्राउंड में शोक संगीत बजाने की सलाह दी जायेगी.  इस दौरान महारानी के शव को वेस्टमिंस्टर हॉल में रखा जायेगा, जहां उन्हें श्रद्धांजलि दी जायेगी.

इसे भी पढ़ेंः अपनी ही पार्टी पर सांसद सैनी का हमलाः कहा- हरियाणा में हारने वाले हैं 90 फीसदी बीजेपी MP-MLA

पिछले सप्ताह महारानी एलिजाबेथ ने जरूरी मीटिंग कैंसिल कर दी थी

बता दें कि पिछले सप्ताह महारानी एलिजाबेथ ने सभी जरूरी मीटिंग कैंसिल कर दी थी.  सूत्रों के अनुसार महारानी असहनीय घुटने के दर्द से गुजर रही हैं.  डॉक्टरों द्वारा दी गयी सर्जरी की सलाह पर महारानी ने सर्जरी से इनकार कर दिया.  महारानी का कहना है कि सर्जरी के बाद लंबे समय तक वह लोगों से मिल नहीं पायेंगी.

जानकारी के अनुसार साल 2013 में 86 साल की उम्र में महारानी गैस्ट्रोएंटेरिटीस की बीमारी से पीड़ित हुई थीं. उस समय प्रसिदध डॉक्टरों की टीम ने महारानी का इलाज किया था.  एलिजाबेथ ने 1952 में ब्रिटिश शाही गद्दी संभाली थी.  महारानी एलिजाबेथ अब तक देश में 15 सरकारें और 13 प्रधानमंत्री बदलते देख चुकी हैं.  जानकारी के अनुसार ब्रिटेन की महारानी के पास 1400 गार्ड्स, 200 घोड़े सहित बेशुमार दौलत है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: