न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लोहरदगा : बच्चा नहीं होने से परेशान महिला ने ली दो मासूमों की जान, खुद भी की आत्महत्या

578

Lohardaga : जिले के सेन्हा थाना क्षेत्र के नौदी गांव में बच्चा नहीं होने से परेशान एक महिला ने दो बच्चियों को मार खुद भी आत्महत्या कर ली. दोनों की बच्चियां रिश्ते में महिला की भतीजी लगती थी. गौरतलब है कि महिला को बच्चा नहीं होने के कारण लोगों के ताने सुनने पड़ते थे. जिसके बाद बांझपन को लेकर सामाजिक व पारिवारिक प्रताड़ना झेल रही महिला ने अपनी दो भतीजियों की जान लेकर इसका बदला लिया. हालांकि बाद में उसने भी कुएं में कुदकर अपनी जान दे दी.

इसे भी पढ़ें- यशवंत सिन्हा का ट्वीट- पहले मैं लायक बेटे का नालायक बाप था, अब रोल बदल गया है

क्या है पूरा मामला

घटना के बारे में बताया जा रहा है कि महिला अपने बांझपन से परेशान थी. शादी के कई सालों के बाद भी बच्चा नहीं होने से वह परेशान थी जिसकी वजह से उसने अपनी दो भतीजियों को कुएं में धकेल कर मार डाला. महिला दोनों बच्चियों को जामून खिलाने का लालच देकर गांव के आंगनबाड़ी के पास बगीचे में ले गई. वहां एक कुएं में दोनों को धकेल दिया और फिर खुद भी कूदकर अपनी जान दे दी. शनिवार देर रात तक जब बच्चियां घर वापस नहीं लौटी तो परिजनों ने उनकी खोज शुरू की. जिसके बाद कुछ गांव वालों ने बताया कि दोनों ही बच्चियां अपनी चाची के साथ आंगलबाड़ी के पास बगीचे में गयी है. जब लोग वहां पहुंचे तो देखा कि तीनों का शव कुएं में था.

इसे भी पढ़ें- गुरुनानक स्कूल के टीचर की गोली मारकर हत्या, पारिवारिक विवाद में घटना को अंजाम दिये जाने की आशंका

जांच में जुटी पुलिस

शव मिलने से गांव में कोहराम मच गया. लोगों ने पुलिस को पूरी घटना की जानकारी दी. पुलिस रविवार सुबह गांव में पहुंची और शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. सेन्हा थाना के थानेदार ने बताया कि मामला कई बिंदुओं से जुड़ा हो सकता है. पुलिस ने इस मामले में जांच कर रही है. जाच के बाद ही पूरी स्थिति स्पष्ट होगी. वहीं कुछ ग्रामीणों का कहना है कि महिला की मानसिक हालत कुछ दिनों से ठीक नहीं थी. वह अपने बांझपन की वजह से परेशान थी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: