न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

लोहरदगा के उतका में चार परिवारों ने अपनाया ईसाई धर्म, गांव ने किया सामाजिक बहिष्कार

381

Lohardaga: लोहरदगा के कैरो थानाक्षेत्र के उतका गांव में चार परिवारों के सामाजिक बहिष्कार का निर्णय लिया गया. झगड़ाटांड़ में बैठक कर ग्रामीणों ने निर्णय लिया है कि इन चारों परिवारों से कोई भी सरना परिवार संबंध नहीं रखेगा. चारों परिवार के यहां आने-जाने, उठने-बैठने, शादी-विवाह, जन्म-मरण में कोई संबंध नहीं रखेगा. यदि कोई सरना परिवार चारों परिवार से संबंध रखता है तो उस परिवार से पांच हजार रुपये जुर्माना वसूल किया जाएगा.

सरना छोड़ ईसाई धर्म अपनाने की मिली सजा
दरअसल उतका गांव में रहने वाले लीबिया उरांव, फगनी उरांव, सनिया उरांव और माया मिंज के परिवार ने एक साल पहले सरना धर्म छोड़ ईसाई धर्म अपना लिया था. जब गांववालों को इसकी खबर लगी तो उन्होने उन्हे समझाने का प्रयास किया. लेकिन जब समझाने से वे नहीं माने तो गुरुवार को पंचायत बुलाई गई. पंचायत ने चारो परिवारों के सामाजिक बहिष्कार का फैसला सुनाया.

इसे भी पढ़ें- रामगढ़ अलीमुद्दीन हत्याकांड के आठ आरोपियों को मिली जमानत

धर्म परिवर्तन करने वाले परिवारों का क्या कहना है
धर्म परिवर्तन करने वाले लिबिया उरांव का कहना है कि धर्म परिवर्तन करने से क्या हुआ. हम अब भी सरना परिवार के सदस्य हैं. हम अब भी सरना परंपरा को मानते हैं. ऐसे में सामाजिक बहिष्कार करने का निर्णय कैसे लिया जा सकता है. हम आज भी समाज से जुड़े हुए हैं.

जबरदस्ती किया गया धर्म परिवर्तन, तब ही होगी कार्रवाई- बीडीओ
प्रखंड विकास पदाधिकारी मनोज कुमार का कहना है कि उन्हें मामले की जानकारी नहीं है. बीडीओ ने कहा कि सभी को अपनी इच्छा से धर्म मानने की स्वतंत्रता है. किसी परिवार के साथ जबरदस्ती हुई तब ही मामले में कार्रवाई की जाएगी. वे इसकी जांच करेंगे.

इसे भी पढ़ें-सदियों पुरानी परंपरा पत्थलगड़ी पर तनाव और टकराव क्यों?

प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी गई जानकारी
ग्रामीणों की बैठक को गोपनीय रखा गया था. बाद में प्रेस विज्ञप्ति जारी कर इसकी सूचना दी गई है। बैठक में मंगलदेव उरांव, चुंदा उरांव, लेटेया उरांव, पूरन उरांव, राम उरांव, रामचंद्र उरांव, कार्तिक उरांव, अविनाश उरांव, प्रफुल उरांव, रंजन उरांव, संजीत उरांव, शिव उरांव, शिव उरांव, कोमल उरांव, सोमरा उरांव, मंगरी उरांव, तितो उरांव, सीता उरांव, सीता उरांव, रुपये उरांव आदि मौजूद थे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

ok

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: