न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#LOHARDAGA : बालाजी स्टोन ट्रेडिंग वर्क्स की खदान में फायरिंग करने में शामिल चार PLFI उग्रवादी गिरफ्तार

629

Lohardaga : कुडू थाना क्षेत्र के मकांदू पहाड़ पर बालाजी स्टोन ट्रेडिंग वर्क्स की खदान में रविवार रात लगभग 10 बजे दर्जन हथियारबंद उग्रवादियों द्वारा लेवी की मांग को लेकर फायरिंग व विस्फोट करने और  मजदूरों के साथ मारपीट व मोबाइल छीनने के मामले में कुडू थाना पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए पीएलएफआइ के चार उग्रवादियों को गिरफ्तार किया है.

इनके पास से लूटे गये 6 मोबाइल फोन और पीएलएफआइ का पर्चा बरामद हुआ है.

Sport House

इसे भी पढ़ें : यूं ही रघुवर और सरयू की दूरियां नहीं बढ़ी, जनिये मंत्री रहते सरकार पर कब कैसे किया वार, पढ़ें पांच साल के ट्विट्स

एसपी के निर्देश पर हुई कार्रवाई

रविवार रात खदान में उग्रवादियों द्वारा फायरिंग और विस्फोट किये जाने की सूचना मिलने के बाद एसपी प्रियदर्शी आलोक के निर्देश पर कुडू थाना पुलिस लगातार छापेमारी अभियान चला रही थी.

छापेमारी अभियान के दौरान चार उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तार उग्रवादियों में रांची जिले के चान्हो थानांतर्गत सिंदवार टोली निवासी जयराम उरांव का पुत्र राजकुमार उरांव, बलसोकरा निवासी छुटकू महतो का पुत्र सुरेश महतो, जलेश्वर महतो का पुत्र राहुल महतो और लातेहार जिले के चंदवा थाना अंतर्गत मड़मा गांव निवासी बलराम मुंडा का पुत्र शर्मा मुंडा शामिल है.

Vision House 17/01/2020
Related Posts

#Palamu: ‘देशद्रोहियों में #ABVP का खौफ, सीएए से वामपंथियों के पेट में हो रहा दर्द’

अभाविप का प्रांतीय अधिवेशन, निकली भव्य शोभायात्रा

अन्य उग्रवादियों की गिरफ्तारी के लिए संभावित स्थानों पर छापेमारी की जा रही है.

इसे भी पढ़ें : #JharkhandElection : समर्थक को टिकट नहीं मिलने से  नाराज सुबोधकांत नहीं पहुंचे कांग्रेस प्रत्याशी के नामांकन में

SP Deoghar

पर्चा छोड़ लेवी की मांग की थी

कुडू थाना क्षेत्र के मकांदू पहाड़ पर बने बालाजी स्टोन ट्रेडिंग वर्क्स नाम के खदान में रविवार रात लगभग 10 बजे दर्जन हथियारबंद उग्रवादियों द्वारा फायरिंग की गयी थी. साथ ही तीन बम विस्फोट कर खौफ फैलाने की कोशिश की गयी थी.

खदान में मौजूद मजदूरों के साथ मारपीट की घटना को भी अंजाम दिया गया था. एक दर्जन मजदूरों का मोबाइल फोन भी छीन दिया गया था. उग्रवादियों ने पीएलएफआइ के नाम पर पर्चा छोड़ते हुए लेवी की मांग की थी. इस घटना के बाद खदान में पत्थर तोड़ने का काम बंद पड़ गया था.

इसे भी पढ़ें : लातेहार और टंडवा में हो रहा कोयले का अवैध कारोबार, गुप्ता जी हैं संरक्षक

Mayfair 2-1-2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like