Corona_UpdatesGiridihJharkhand

#Day5: अन्य राज्यों से गिरिडीह पहुंच रहे मजदूरों ने बढ़ायी स्वास्थ्य विभाग की चिंता, जिले में कोरोना का कोई केस नहीं

Giridih: दूसरे राज्यों से आने वाले मजदूरों और कामगारों की शहर में इंट्री ने स्वास्थ विभाग की चिंता बढ़ा दी है. कोई ऐसा दिन नहीं जब रोजगार की तलाश में देश के अलग-अलग राज्यों में गये मजदूर वापस गिरिडीह नहीं लौट रहे हैं.

Jharkhand Rai

कोई अपने घर गिरिडीह लौट रहा है तो कई गिरिडीह होते हुए बिहार के मुंगेर, समस्तीपुर, वैशाली समेत कई और जिलों में जा रहा है. स्वास्थ विभाग की चिंता है कि अगर कोई एक भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति की इंट्री हुई तो स्थिति संभालना मुश्किल हो जायेगा.

जिले में स्वास्थ की कोई ऐसी सुविधा नहीं है जिससे कोरोना के इन्फेक्टेड से किसी को सुरक्षित किया जा सके. जाहिर है स्वास्थ विभाग इसी बात को लेकर परेशान दिख रहा है.

इसे भी पढ़ें : #LockDown21: उर्दू शिक्षकों का फंसा वेतन, छह माह से कर रहे इंतजार

Samford

उठा रहे सारे एहतियाती कदम

रविवार को सिविल सर्जन डॉ अवधेश सिन्हा ने न्यूजविंग को बताया कि सारे एहतियाती कदम उठाये जा रहे हैं. 24 घंटे नर्से, स्वास्थ्य कर्मी और चिकित्सक अपनी सेवा दे रहे हैं. जितने हेल्प लाइन नंबर जारी किये गये हैं उनमें हर कॉल का रजिस्ट्रेशन कर उनके बताये नंबरों पर पहुंचा जा रहा है.

इस दौरान जिस प्रकार की शिकायत रहती है, उसी अनुसार चिकित्सक और स्वास्थ कर्मी राहत कार्य शुरू कर देते हैं. फिलहाल राहत की बात यह है कि लॉकडाउन की घोषणा के पांचवें दिन रविवार को भी जिले में किसी कोरोना से संक्रमित और संदेहास्पद मरीज का केस सामने नहीं आया है.

इसे भी पढ़ें : #Lockdown : शिक्षा मंत्री की अपील, बच्चों से निजी स्कूल प्रबंधन न लें फीस, जल्द जारी करेंगे आदेश

स्थानीय प्रशासन ने कोई कदम नहीं उठाया

इधर स्वास्थ विभाग के चिंता जाहिर किये जाने के बाद अब तक स्थानीय प्रशासन ने इस ओर कोई कदम नहीं उठाया है कि बाहरी राज्यों से आने वाले लोग चाहे जिस जिले के हो, वैसे लोगों को शहर के सीमावर्ती इलाकों में ही रोका जाये. शहर में इंट्री किसी सूरत में नहीं हो.

इस बीच पांचवे दिन ही डीसी ने छह नंबरों को सार्वजनिक किया जिसमें तीन नंबर जहां गिरिडीह के थे, वहीं तीन अन्य नंबर दुसरे राज्यों के थे. इसमें बाहर से आने वाले मजदूरों के पल-पल की जानकारी लेने के साथ ही दूसरे राज्यों में रह रहे मजदूरों की हर जानकारी उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गयी थी.

जिले के लिए जिन तीन नंबरो को सार्वजनिक किया गया. उसमें लॉकडाउन के दौरान विधी-व्यवस्था की जानकारी लेने के साथ अब तक बाहरी राज्यों से आने वाले मजदूरों के भोजन व रहने की हर व्यवस्था की जानकारी मुहैया कराने से जुड़ा हुआ है.

इसे भी पढ़ें : #COVID2019india: यूथ कांग्रेस ने जिलेवार और रांची जिला प्रशासन ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए जारी किया हेल्पलाइन नंबर

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: