JobsNational

लॉकडाउन की मार, मोदी सरकार ने देश में बेरोजगारी की स्थिति का पता लगाने की कवायद शुरू की

देश में बेरोजगारी को लेकर लेबर ब्यूरो देश में बेरोजगारी की स्थिति का पता लगाने के लिए तीन सर्वे करायेगा.

NewDelhi : खबर है कि कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन के बाद देश में बेरोजगारी को लेकर लेबर ब्यूरो देश में बेरोजगारी की स्थिति का पता लगाने के लिए तीन सर्वे करायेगा.  सर्वे माइग्रेशन, घरेलू कामगारों और पेशवर संगठनों पर होंगे. जानकारी के अनुसार श्रम मंत्री संतोष गंगवार के साथ सर्वे के लिए बने तीन एक्सपर्ट ग्रुप की बैठक गुरुवार को हुई है.

इसे भी पढें : राहुल गांधी का फिर मोदी पर वार,  जवानों को बुलेट प्रूफ वाहन नहीं, पीएम को करोड़ों का हवाई जहाज

एक्सपर्ट ग्रुप की अध्यक्षता कोलकाता यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एसपी मुखर्जी करेंगे 

एक्सपर्ट ग्रुप की अध्यक्षता कोलकाता यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एसपी मुखर्जी करेंगे.  इसमें अर्थशास्त्री और सांख्यिकीविद भी शामिल होंगे. जान लें कि सरकार इस सर्वे के माध्यम से आप्रवासी मजदूरों और उनसे जुड़े मुद्दों का अंदाजा लगायेगी.  इस डेटाबेस के जरिये सरकार उनके मुताबिक रोजगार प्रोग्राम लायेगी.

इसे भी पढें : रेप केस में अब एफआइआर दर्ज करना हुआ अनिवार्य, गृह मंत्रालय ने जारी की नयी एडवाइजरी

देश में कुल कामगारों में लगभग 3 फीसदी घरेलू कामगार हैं

आकलन के अनुसार देश में कुल कामगारों में लगभग 3 फीसदी घरेलू कामगार हैं, इसलिए घरेलू कामगारों के आंकड़े जुटाये जायेंगे. इसी तरह प्रोफेशनल बॉडीज का भी सर्वे होगा.चार्टर्ड अकाउंटेंट, वकीलों और डॉक्टरों के यहां कितने लोगों को रोजगार मिल रहा है इसका पता भी इस सर्वे के जरिये किया जायेगा.  सरकार ने एक्सपर्ट्स ग्रुप को सारी तकनीकी तैयारी जल्द से जल्द करने को कहा है.  सरकार जल्द इस सर्वे को शुरू कराने की जुगत में है.

इसे भी पढें :  आज से ट्रेन छूटने से 5 पांच मिनट पहले भी बुक करा सकेंगे टिकट

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: