DhanbadJharkhand

लॉकडाउन का कहर : खत्म हो रहे थे खाने के पैसे, झरिया में खलासी ने बस में ही फांसी लगाकर दे दी जान

Dhanbad : रविवार को झरिया थाना क्षेत्र के चार नंबर बस स्टैंड में मगध बस पर संदिग्ध स्थिति में बस के खलासी का शव फंदे से लटकता मिला.

घटना के संबंध में स्थानीय लोगों का कहना है कि रविवार की सुबह मगध बस, जो झरिया से बिहार के औरंगाबाद के लिए चलती है,  में अजीत नामक बस खलासी का शव संदिग्ध अवस्था में मिला. 

इसे भी पढ़ेंः गुड न्यूज :  झारखंड लौट रहे सभी प्रवासी मजदूरों के लिए मनरेगा में अवसर, मिलेगा रोजगार, ब्लू प्रिंट तैयार

 लॉकडाउन के कारण बस में अकेले रह रहा था खलासी, खत्म होने लगे थे खाने-पीने के पैसे

 बताया जाता है कि लॉकडाउन के दौरान बस झरिया में ही फंस गयी थी. और अजित बस की देख रेख में था. अजीत बिहार के शेरघाटी के घघरी चतरा गांव का निवासी था. बताया जाता है कि मनोज बस में अकेले रह रहा था. ड्राइवर बस छोड़कर घर चला गया था.

उसके पास खाने-पीने के पैसे खत्म होने लगे थे. जिससे वह तनाव में रहने लगा था. स्थानीय लोगों के अनुसार उसने तनाव में आकर फंदे से लटककर अपनी जान दे दी. बस में शव की सूचना मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गयी और घटना स्थल पर स्थानीय लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गयी.

इसे भी पढ़ेंः मुख्यमंत्री ने औरैया हादसे के मृतकों के परिवारों को 4-4 लाख और घायलों को 50-50 हजार की सहायता की घोषणा की   

 पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया शव

स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना झरिया थाना को दी. सूचना मिलते ही पुलिस दल बल के साथ मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए धनबाद के पीएमसीएच भेज कर मामले की जांच में जुट गयी है.

पुलिस ने मौत के कारणों के बारे में अभी तक कोई जानकारी नहीं दी है. पुलिस के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पायेगा.

इसे भी पढ़ेंः #Lockdown 4.0: पूरे देश में 31 मई तक बढ़ाया जायेगा लॉक डाउन!

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: